रणनीति : नाम नहीं काम बदलो!

PUBLISHED ON: June 6, 2018 | Duration: 15 min, 10 sec

  
loading..
मुगलसराय स्टेशन नहीं रहा. सैकड़ों साल पुराने स्टेशन की जगह आधिकारित तौर पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन ने ले ली है. यूपी के चंदौली में RSS के आयड्योलॉग दीन दयाल के नाम पर इस स्टेशन का नाम रखा गया है. जिसके लिए यूपी के गवर्नर राम नायक ने अपनी स्वीकृति दे दी है. मुगलसराय कई वजहों से ऐतिहासिक है. पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का जन्म स्थान, और साथ ही 1968 में यहीं दीन दयाल उपाध्याय का सव रहस्यमई हालात में मिला था. शायद इसी लिए योगी जी ने ये प्रस्ताव दिया था. वैसे भी सराय एक फारसी शब्द है, जहां मुसाफिर या तीर्थयात्री या फिर कारोबारी लंबे सफर में ठहरते थे.
ALSO WATCH
We The People: Will Name-Change Spree Help BJP In 2019?

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................