मॉलवेयर के जरिए हुई जासूसी, निशाने पर थे खास विचारधारा के लोग

PUBLISHED ON: November 1, 2019 | Duration: 3 min, 58 sec

  
loading..
वाट्सएप ने कई भारतीय पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं को बताया है कि एक इजरायली सॉफ्टवेयर के जरिये उनकी जासूसी की गई. ये जासूसी लोकसभा चुनाव के दौरान हुई है. जिन लोगों की जासूसी की गई है, उनके नाम पर गौर करने पर संदेह पैदा होता है कि क्या इसमें सरकार की कोई भूमिका रही है? हालांकि केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का कहना है कि भारत के नागरिकों की निजता में व्हाट्सएप पर उल्लंघन होने को लेकर सरकार चिंतित है.
ALSO WATCH
Studying The Challenges Before New BJP Chief JP Nadda

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................