हम लोग : 'अतिथि देवो भव' को व्यवहार में कितना उतारते हैं हम?

PUBLISHED ON: October 29, 2017 | Duration: 36 min, 02 sec

   
loading..
क्या हम अपने मुल्क में आने वाले मेहमानों को वह सम्मान देते हैं जो हमारे मुल्क की परम्परा है. यानी 'अतिथि देवो भव'. यह सवाल इस लिए पूंछना जरूरी है क्योंकि 22 अक्टूबर यानी पिछले रविवार को फतेहपुर सीकरी जो आगरा से बहुत करीब है वहां पर स्विट्जरलैंड से आए दो सैलानियों के साथ बहुत मारपीट की गई.
ALSO WATCH
रणनीति इंट्रो : युद्ध का अखाड़ा बनता जा रहा है JNU?

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................