सिंपल समाचार: फसल सोना, किसान के माथे रोना

PUBLISHED ON: August 21, 2018 | Duration: 15 min, 13 sec

  
loading..
सिंपल समाचार के आज के एपिसोड में हम बात करेंगे किसानों की. चाहे बंपर फसल भी हो, किसान का हाल अच्छा नहीं होता है. किसान फिर भी रोता है. कृषि विकास दर 2016-17 में पांच साल में सबसे अच्छा था. जनवरी से जून 2017 का सर्वे नावार्ड ने किया है, जिसका डेटा पिछले हफ्ते सामने आया है. सर्वे का फोकस था कि क्या किसान बैंक में इन्वेस्टमेंट करते हैं, क्या बैंक से उनको लोन मिलता है. इसके साथ-साथ किसानों के साथ बहुत कुछ देखने को मिला है. देश के 87 प्रतिशत किसान परिवार के पास दो हेक्टेयर से कम जमीन है. वहीं, 87 फीसदी किसानों की आय 2436 रुपये से भी कम है. इन परिवारों में 5 से 6 लोग रहते हैं.
ALSO WATCH
Farmers Protest In Karnataka Over Support Price Of Sugarcane

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................