रणनीति: वोटों की खातिर, दाग अच्छे हैं?

PUBLISHED ON: July 9, 2018 | Duration: 15 min, 42 sec

  
loading..
बीजेपी के मंत्री गिरिराज सिंह जो अक्सर अपने बयानों के लिए विवाद मे रहे हैं, फिर से एक बहस के केंद्र में हैं. गिरिराज सिंह दंगा मामले में सजायाफ्ता बजरंग दल कार्यकर्ता जितेंद्र प्रताप से मुलाकात करने नवादा जेल गए साथ ही केंद्रीय मंत्री ने बिहार सरकार पर आरोप लगाते हुए ये बयान भी दिया कि यहां कि सरकार ने तो मन बना लिया है कि जबतक हिंदुओं को दबाया नहीं जाएगा तब तक सांप्रदायिक सौहार्द स्थापित नहीं होगा. इससे पहले केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा रामगढ़ लिंचिंग के आरोपियों को फूल माला पहनाते मिठाई खिलाते नजर आए. गिरिराज सिंह और जयंत सिन्हा में जमीन आसमान का फर्क है. सिर्फ बाहरी फर्क नहीं, उनकी छवि अलग है.
ALSO WATCH
मिशन 2019 : क्या कानून से बनेगा राम मंदिर?

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................