प्राइम टाइम : हमारे नेताओं की भाषा कैसी है? | Read

PUBLISHED ON: December 22, 2016 | Duration: 39 min, 55 sec

   
loading..
राजनीति वन लाइनर होती जा रही है. बोलने में भी और विचार से भी. सारा ध्यान इसी पर रहता है कि ताली बजी कि नहीं बजी. लोग हंसे की नहीं हंसे. मजा चाहिए, विचार नहीं. इस वक्त बहुत जरूरी है कि नोटबंदी के व्यापक स्वरूप पर गंभीर चर्चा हो. कितनी गंभीर है वही देखेंगे.
ALSO WATCH
प्राइम टाइम इंट्रो: राफेल को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति का दावा

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................