प्राइम टाइम: असली मुद्दे मीडिया से कितनी दूर?

PUBLISHED ON: March 5, 2019 | Duration: 33 min, 12 sec

  
loading..
रेलवे के ग्रुप डी के नतीजे आए हैं, बड़ी संख्या में परीक्षारथी रेल मंत्री पीयूष गोयल की टाइम लाइन पर लिख रहे हैं कि जो अंक मिले हैं उसकी प्रक्रिया जानना चाहते हैं. मुझे भी बहुत से मेसेज आए हैं कि 100 अंक के पेपर में किसी को 110 या 148 नंबर कैसे मिल सकते हैं. नौजवान किसी नार्मलाइज़ेशन की बात कर रहे थे जिसके कारण ऐसा हुआ है, उनके मन में तरह तरह के सवाल हैं. एक सवाल यही कि पहले मूल अंक दिखाना चाहिए फिर नार्मलाइज़ेशन के अंक को जोड़ कर औसत अंक बताना चाहिए. बेहतर है कि रेल मंत्री या रेल मंत्रालय छात्रों को प्रक्रिया के बारे में बताए और उनके सवालों के जवाब दे. वे काफी परेशान हैं. कई बार हम ये सोचते हैं कि जिनका नहीं हुआ है वही हल्ला कर रहे हैं, तब भी परीक्षा की विश्वसनीयता के लिए ज़रूरी है कि प्रक्रिया के बारे में सबको बताया जाए. ऐसे छात्रों से निवेदन हैं कि रेल मंत्री को ही मेसेज करें.
ALSO WATCH
Is Mahatma Gandhi Losing Relevance As An Icon In New India?

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................