प्राइम टाइम: कुपोषण, भुखमरी से लड़ना हमारी प्राथमिकता में कहां?

PUBLISHED ON: July 25, 2018 | Duration: 32 min, 03 sec

  
loading..
अगर आपको यह बताया जाए कि राजधानी दिल्ली में भूख से 3 बच्चे मर गए हैं तब क्या आप थोड़ी देर के लिए भी ठिठक कर जानना चाहेंगे कि दिल्ली में कोई भूख से कैसे मर सकता है. जब भी हम ऐसा भ्रम पाल लेते हैं तभी कोई ऐसी घटना हमारा भ्रम तोड़ देती है. दिल्ली में प्रति व्यक्ति आय 27,424 रुपये है. महीने के हिसाब से. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी इस बात की पुष्टि हुई है कि तीनों बच्चियों की मौत भूख से हुई है. पूर्वी दिल्ली के मंडावली इलाके में सोमवार को यह घटना हुई है. हमारे सहयोगी मुकेश सिंह सेंगर ने बताया कि उन शिखा 8 साल की थी, मानसी 4 साल की थी और पारुल 2 साल की थी. तीनों बच्चियों के पिता मंगल रिक्शा चलाते हैं. कुछ दिन पहले उनसे किसी ने रिक्शा छीन ली. मकान मालिक ने घर से निकाल दिया. मंगल काम की तलाश में भटकता रहा, बेटियां भूख से तड़पती रहीं. मर गईं. मंगल पश्चिम बंगाल का रहने वाला है.
ALSO WATCH
2018 Royal Enfield Scramble - Gurugram

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................