कुशलता के कदम: कश्मीर के कारीगरों को मिली नई पहचान

PUBLISHED ON: January 26, 2019 | Duration: 16 min, 40 sec

  
loading..
जितनी खूबसूरती जम्मू कश्मीर की वादियों को प्रकृति ने दी है, उतनी ही खूबसूरत यहां लोक कलाएं और कारीगरी हैं. हैंडीग्राफ्ट से लेकर पश्मीना के बारीक काम तक घाटी में इस हुनर का एक लंबा इतिहास है. जो पीढ़ी दर पीढ़ी चलते आ रहे हैं. इस कारीगरी और हुनर को देखते हुए यहां 2016 में ऊषा सिलाई लेबल ने गारमेंट डिजाइन और प्रोडक्शन का सेंटर शुरू किया.
ALSO WATCH
कुशलता के कदम: ऊषा सिलाई स्कूल से महिलाएं हो रहीं आत्मनिर्भर

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................