इंडियानामा : सलाम बालक ट्रस्ट की कहानी

PUBLISHED ON: July 12, 2013 | Duration: 21 min, 56 sec

  
loading..
एक अनुमान के मुताबिक दिल्ली की सड़कों पर 45 हजार ऐसे बच्चे हैं जिनका न घर है... न कोई ठिकाना। मुंबई में इससे भी ज्यादा ऐसे बच्चे हैं। (यह एपिसोड मूल रूप से अक्टूबर, 2003 में प्रसारित किया गया था, और अब इसे 'एनडीटीवी क्लासिक' के तहत दोबारा दिखाया गया है)
ALSO WATCH
क्योंकि दिवाली पर घर जाना है!

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................