ऑटो ड्राइवर की बेटी बनी टॉपर

PUBLISHED ON: January 23, 2013 | Duration: 13 min, 48 sec

   
loading..
सपनों को उड़ान भरने के लिए किसी आसमान की जरूरत नहीं होती। इसे सही साबित कर दिखाया प्रेमा जयकुमार ने। प्रेमा ने न केवल तीन सौ वर्ग फुट की चाल के छोटे से कमरे में सपने देखे बल्कि अपनी मेहनत से उन सपनों में रंग भी भर दिए।

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................