सिटी सेंटर: मायावती ने तोड़ा गठबंधन और दिल्ली-एनसीआर की महिलाओं के लिए मुफ्त ट्रांसपोर्ट

PUBLISHED ON: June 4, 2019 | Duration: 11 min, 37 sec

  
loading..
उत्तर प्रदेश का महागठबंधन आज टूट गया. बहुजन समाज पारटी की प्रमुख मायावती ने आज मीडिया में सामने आ कर कह दिया कि अखिलेश-डिंपल यादव का वो आदर सम्मान करती हैं, जो रिश्ते बने वो राजनीतिक स्वार्थ पर नही थे. सुख दुख में बने रहेगें. लेकिन राजनीति विवशताओं को नजर अंदाज नही किया जा सकता. उन्होने उपचुनाव में अकेले लड़ने का एलान किया है. हालांकि उन्होंने ये भी कहा है कि ये परमानेंट ब्रेक नहीं है. मायावती ने कहा कि सपा अपनी मजबूत सीटे हार गई.डिम्पल कन्नौज से, धर्मेन्द बदायूं से और फिरोजाबाद से राम गोपाल के बेटे. इसने उन्हे सोचने पर मजबूर कर दिया है. ये भी की अगर अखिलेश समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओ में मिशनरी सोच लाने में कामयाब रहे तो दोबारा दोनों पार्टियां साथ आएंगी, वरना बीएसपी अकले चलना ही पसंद करेगी. और दिल्ली मेट्रो-डीटीसी और कलस्टर बसों में महिलाओं को मुफ्त सफर कराने के दिल्ली सरकार के फैसले पर उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि यह सुविधा सिर्फ दिल्ली की महिलाओं के लिए ही नहीं है, बल्कि दिल्ली एनसीआर से आने वाली महिलाएं भी इस सुविधा का लाभ उठा पाएंगी. एनडीटीवी से बातचीत में उन्होंने कहा कि हम दिल्ली-एनसीआर की महिलाओं को सुरक्षित देखना चाहते हैं. इस योजना से वह खुदको सुरक्षित महसूस करेंगी.
ALSO WATCH
बीजेपी ने बेनामी संपत्ति के जरिए ही जीता लोकसभा चुनाव : मायावती

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................