क्या प्रधानमंत्री की जाति पर राजनीति होनी चाहिए?

PUBLISHED ON: April 29, 2019 | Duration: 8 min, 52 sec

  
loading..
भारतीय राजनीति सबसे ज़्यादा जाति की ही बात करती है. पार्टियां जाति के आधार पर टिकट बांटती हैं, नेता जातिगत पहचान के सहारे वोट मांगते हैं, चुनाव जीतने की उम्मीद करते हैं. मीडिया भी अपने राजनैतिक समीकरणों का हिसाब लगाते हुए सबसे ज़्यादा जातियों के अनुपात पर ही ध्यान रखता है. आप कह सकते हैं कि अगर जाति भारतीय समाज की सच्चाई है तो भारतीय राजनीति इससे आंख कैसे चुरा सकती है.
ALSO WATCH
'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में शिरकत के लिए रवाना हुए पीएम मोदी
................... Advertisement ...................
................... Advertisement ...................