रवीश कुमार का प्राइम टाइम: स्कूल के क्लास रूम में सीसीटीवी कैमरे की जरूरत क्यों?

PUBLISHED ON: July 9, 2019 | Duration: 13 min, 48 sec

  
loading..
क्या आप चाहते हैं कि स्कूल के क्लास रूम में सीसीटीवी कैमरा लगे, क्या आप खुद को या बच्चों को लगातार कैमरे की निगरानी में रखने के असर को समझ रहे हैं. दिल्ली सरकार अपने स्कूलों में 1 लाख से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगा रही है. 600 करोड़ से अधिक का प्रोजेक्ट है. लाजपत नगर के सरकारी स्कूल में 210 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. एक स्कूल इतने कैमरों की ज़द में होगा तो हर समय एक पुलिस का साया बच्चों के ऊपर मंडराता रहेगा. क्या यह ठीक है या इससे नुकसान है. क्लास रूम से लेकर खेल के मैदान पर हर जगह निगरानी रहेगी. दिल्ली के मुख्यमंत्री का तर्क है कि बच्चे स्कूल में पढ़ाई के लिए जाते हैं, प्राइवेसी के लिए नहीं. सीसीटीवी कैमरे लगाने से अनुशासन बढ़ेगा, पढ़ाई का स्तर अच्छा होगा और अगले साल रिज़ल्ट भी अच्छा होगा. देश में और दुनिया के अंदर स्कूली शिक्षा के क्षेत्र में यह मील का पत्थर साबित होगा. केजरीवाल ने कहा है कि सरकारी स्कूल अच्छे नहीं होते तो हम क्लास रूम का लाइव फीड मां बाप को नहीं देते. कोई सरकार अपनी कमी नहीं दिखाना चाहेगी. इस योजना के तहत मां बाप एक एप के ज़रिए देख सकेंगे कि उनका बच्चा क्लास में क्या कर रहा है, पढ़ाई ठीक से हो रही है या नहीं. मनीष सिसोदिया का कहना है कि जब कैमरे नहीं लग रहे थे तब विरोधी दल निशाना बना रहे थे अब लगाए जा रहे हैं तो सवाल हो रहा है. मां बाप के लिए स्कूल कभी खत्म नहीं होंगे. बच्चों के स्कूल जाने के बाद एप के ज़रिए वे स्कूल में ही रहेंगे.
ALSO WATCH
दिल्ली सरकार के बजट ने होटल व्यापारियों की मुश्किलें बढ़ाई

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................