आसाराम केस : दबाव के बावजूद पीछे नहीं हटे अजय पाल लांबा

PUBLISHED ON: April 26, 2018 | Duration: 2 min, 48 sec

  
loading..
वो बहुत प्रभावशाली था बहुत पैसे वाला भी बड़े वकीलों की फौज थी उसके पास ये बात हो रही है स्वयंभू धर्मगुरु आसाराम की और मामला है नाबालिग के रेप का जिसमें अब उसे उम्र कैद की सज़ा हुई है और इस सज़ा को उम्मीदों की विजय के तौर पर देखा जाना चाहिए. उम्मीद न्याय की उस पीड़ित लड़की की और उन सभी लोगों की जो बिना डरे, बिना दबे बिना किसी लालच में आए सिर्फ एक लक्ष्य पर नज़रें टिकाए रहे. मामले की शुरुआत अजय पाल लांबा से हुई जो भारी दबाव के बावजूद कानून पर अम्ल करने से नहीं हिचके. अजय पाल लांबा जोधपुर में SP थे जब आसाराम के खिलाफ बलात्कार का मामला एक नाबालिग लड़की ने दर्ज करवाया था.
ALSO WATCH
रेप के मामले में आसाराम का बेटा नारायण साईं दोषी क़रार