10वीं में पढ़ाई जाएगी सब इंस्पेक्टर रेखा मिश्रा की कहानी

PUBLISHED ON: June 20, 2018 | Duration: 2 min, 09 sec

  
loading..
मुंबई रेल सुरक्षा बल की एक महिलाकर्मी को उसके कामों के लिए अनूठा उपहार मिला है. मुंबई में बाल-सुरक्षा के लिए किए गए उनके कामों को महाराष्ट्र के उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों की पुस्तकों में अब पढ़ाया जाएगा. रेखा मिश्रा अब तक घर से बिछड़े 953 बच्चों को मिला चुकी हैं.
ALSO WATCH
Rekha Mishra: The Policewoman Who's Rescued 400 Runaway Children

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................