आसान नहीं है तीन तलाक बिल पास कराना

PUBLISHED ON: June 17, 2019 | Duration: 2 min, 04 sec

  
loading..
संसद में ट्रिपल तलाक बिल फिर से लाया जाना है. इसको लेकर विभिन्न दलों की अलग-अलग राय है. बीजू जनता दल (बीजेडी) और वाईएसआर कांग्रेस ने इस विधेयक में पति को कठोर दंड के प्रावधान पर आपत्ति जताई है. वाईएसआर कांग्रेस के संसदीय दल के नेता विजय साई रेड्डी ने NDTV से तीन तलाक बिल को लेकर कहा कि हमारी पार्टी के सदस्यों ने 16वीं लोकसभा में ट्रिपल तलाक विधेयक के बारे में कुछ संदेह व्यक्त किए थे. पार्टी ने कठोर दंड प्रावधानों, दोषी पति को जेल भेजने आदि पर आपत्ति जताई है. हमने इस बात पर भी संदेह जताया है कि सरकार ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि संसद में पेश होने वाले इसके मसौदे का स्वरूप क्या होगा.
ALSO WATCH
Is The New Triple Talaq Law Actually A Deterrent?

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................