ताक़तवर NIA ज़रूरी, पोटा हटाने से आतंकवाद बढ़ा : गृहमंत्री अमित शाह

PUBLISHED ON: July 15, 2019 | Duration: 6 min, 21 sec

  
loading..
सोमवार को लोकसभा में एनआईए संशोधन विधेयक पर चर्चा हुई. चर्चा के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार की एनआईए कानून का दुरुपयोग करने की न तो कोई इच्छा है और न ही कोई मंशा है और इस कानून का शुद्ध रूप से आतंकवाद को खत्म करने के लिये ही उपयोग किया जायेगा. राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण संशोधन विधेयक 2019 पर लोकसभा में चर्चा में हस्तक्षेप करते हुए अमित शाह ने कहा कि कुछ लोगों ने धर्म का जिक्र किया और एनआईए कानून का दुरूपयोग किये जाने के विषय को भी उठाया.'' हम स्पष्ट करना चाहते हैं कि मोदी सरकार की एनआईए कानून का दुरूपयोग करने की न तो कोई इच्छा है और न ही कोई मंशा है और इस कानून का शुद्ध रूप से आतंकवाद को खत्म करने के लिय उपयोग किया जायेगा.’’ कुछ सदस्यों द्वारा ‘पोटा’ (आतंकवादी गतिविधि रोकथाम अधिनियम) का जिक्र किये जाने के संदर्भ में गृह मंत्री ने कहा, ‘‘पोटा कानून को वोटबैंक बचाने के लिए भंग किया गया था. पोटा की मदद से देश को आतंकवाद से बचाया जाता था, इससे आतंकवादियों के अंदर भय था, देश की सीमाओं की रक्षा होती थी. इस कानून को पूर्ववर्ती संप्रग की सरकार ने 2004 में आते ही भंग कर दिया.’’
ALSO WATCH
Arun Jaitley, The Kingmaker, On His Amritsar Wager (Aired March, 2014)

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................