जयपुर लिटरेचर फ़ेस्टिवल : साहित्य का कुंभ

PUBLISHED ON: January 22, 2017 | Duration: 1 min, 56 sec

  
loading..
जयपुर लिटरेचर फ़ेस्टिवल ख़त्म होने को है, लेकिन लोगों की पहुंचती भीड़ को देखकर कहा जा सकता है कि ये साहित्य का कुंभ है. सिर्फ़ किताबों पर चर्चा नहीं, साहित्य, अर्थशास्त्र, इतिहास और राजनीति सबके लिए यहां खुले मंच हैं.
ALSO WATCH
Threatened Over "Padmaavat", Prasoon Joshi Pulls Out Of Jaipur Lit Fest

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................