पायल तड़वी को सीनियर डॉक्टर नहीं करने देते थे डिलीवरी केस

PUBLISHED ON: July 30, 2019 | Duration: 2 min, 50 sec

  
loading..
मुंबई के नायर अस्पताल में 22 मई को जातिगत टिप्पणियों से परेशान होकर सेकेंड ईयर की छात्रा पायल तड़वी ने आत्महत्या कर की थी. अब इस मामले की जांच में कई चौथी दर्जा कर्मचारियों ने इस बात को माना है कि पायल के साथ सीनियर डॉक्टर जातिसूचक शब्दों को इस्तेमाल करते थे. इतना ही नहीं एक बार तो उसे 'आदिवासी जंगली' तक कह दिया गया था. डॉक्टरों पायल से कहते थे कि जब तक वो यहां वह उसे डिलीवरी नहीं करने देंगे. इस मामले में जांच जारी है और अगली सुनवाई 30 जुलाई को होनी है.
ALSO WATCH
सिटी एक्सप्रेस: BHU में छेड़खानी के आरोपी प्रोफेसर के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................