GROUND REPORT : कड़ाके की सर्दी में खुले में सोने को मजबूर

PUBLISHED ON: December 27, 2017 | Duration: 6 min, 45 sec

   
loading..
कड़ाके की सर्दी में दिल्ली की सड़कों और जंगलों में हजारों बेघर खुले में सो रहे हैं. हालांकि सरकार ने करीब 20,000 बेघरों के लिए रैन बसेरों का इंतजाम कर रखा है. लेकिन इसके बावजूद हजारों बेघर सरकारी रैन बसेरों में नहीं रहना चाहते हैं. सरकारी इंतजाम की जमीनी हकीकत और सर्दी में बाहर सोने की कौन सी मजबूरी है. इन सब हालातों पर हमारी पड़ताल.
ALSO WATCH
सिटी सेंटर: मनोज तिवारी को SC की फटकार और डूसू अध्यक्ष का सर्टिफिकेट नकली?

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................