वाह रे राजनीति! तुम्‍हें याद हो कि न याद हो...

PUBLISHED ON: July 27, 2017 | Duration: 5 min, 31 sec

  
loading..
भारतीय शिक्षा प्रणाली का एक उसूल है. अगला चैप्‍टर पढ़ने से पहले अच्‍छा होता है पिछला चैप्‍टर ठीक से रिवाइज कर लेना. तो अब तो नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी नए साथी हैं. लेकिन 2015 में जब दोनों प्रतिद्वंद्वी के रूप में बिहार के जनता के बीच गए तो उनके मुखमंडल से कितनी फुलझड़ियां ये आप भी देखिए.
ALSO WATCH
सिटी सेंटर: वेस्टर्न एक्सप्रेसवे का उद्घाटन, कर्नाटक-गोवा के बीच मछली विवाद
................... Advertisement ...................
................... Advertisement ...................