आखिरकार दिल्ली पुलिस ने माना- जामिया प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा में चलाई थी गोली

PUBLISHED ON: January 5, 2020 | Duration: 2 min, 35 sec

  
loading..
नागरिकता संशोधन कानून के विरोध का मुद्दा देश में बदस्तूर जारी है. दिल्ली के शाहीन बाग में पिछले 20 दिनों से प्रदर्शन हो रहा है. दिल्ली ही नहीं बल्कि कई राज्यों में कांग्रेस व अन्य विपक्षी दल इस कानून (CAA) को वापस लेने की मांग पर अड़े हैं. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) साफ कर चुके हैं कि यह कानून किसी भी सूरत में वापस नहीं होगा. दिसंबर महीने में दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया (Jamia Millia Islamia) में CAA के विरोध में छात्र एकजुट हुए थे. छात्रों ने मार्च निकाला और फिर देखते ही देखते प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया. पुलिस पर छात्रों से मारपीट, यूनिवर्सिटी में तोड़फोड़, गाड़ियों में तोड़फोड़ और गोली चलाने का आरोप लगा. शुरूआत में तो दिल्ली पुलिस गोली चलाने के आरोप से इंकार करती रही लेकिन अब पुलिस ने गोली चलाने की बात स्वीकार की है.
ALSO WATCH
पक्ष विपक्ष : जामिया हिंसा पर अब शुरू हुआ वीडियो वॉर

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................