प्यासे बुंदेलखंड को बस वाटर टैंकर का सहारा

PUBLISHED ON: April 20, 2016 | Duration: 2 min, 35 sec

  
loading..
बुंदेलखंड प्यासा है। पिछले 2 साल से ज़रूरत की चौथाई बारिश भी नहीं हुई है। लिहाज़ा नदियां, तालाब, कुएं सब सूख चुके हैं। इंसान और मवेशी दोनों प्यासे हैं। सरकार इमरजेंसी में टैंकर भेजने के साथ ही आगे के लिए कुछ योजनाएं बना रही है, लेकिन जब तक मानसून नहीं आ जाता है, शायद हालात बहुत नहीं सुधरेंगे।
ALSO WATCH
चेन्नई में जल संकट: लोगों को खरीदना पड़ रहा है दोगुना महंगा पानी

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................