NGT में दोषी पाया गया आर्ट ऑफ़ लिविंग सुप्रीम कोर्ट जाएगा

PUBLISHED ON: December 7, 2017 | Duration: 2 min, 40 sec

   
loading..
NGT ने श्री श्री रवशंकर की संस्था आर्ट ऑफ लिविंग को मार्च 2016 की विश्व सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान यमुना किनारे जैव विविधता को नुकसान पहुंचाने का दोषी करार दिया है. कोर्ट ने आर्ट ऑफ लिविंग के पैसों से DDA को यमुना किनारे जैव विविधता पार्क बनाने का आदेश दिया है. एनजीटी इस आदेश के खिलाफ आर्ट ऑफ लिविंग सुप्रीम कोर्ट जाएगा.
ALSO WATCH
सिटी सेंटर : मायावती ने बंगले को स्मारक घोषित किया, केरल में निपाह वायरस का आतंक

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................