निर्भया के बाद भी हम कुछ नहीं सीखने को तैयार?

PUBLISHED ON: June 30, 2018 | Duration: 1 min, 53 sec

  
loading..
आखिर क्यों भारत में महिला को सुरक्षा को चुनावी मुद्दा नहीं बनाया जा सकता है. इसे मुद्दे के तौर पर देखने में आखिर किसी को परहेज कैसे हो सकता है. और देश में इस मुद्दे को कब चुनावी मुद्दा माना जाएगा. इस तरह के सवाल महिला सुरक्षा की चुनौती को सबके सामने लाते हैं.
ALSO WATCH
रोशन दिल्ली: 'आज अपराध किसी इलाके विशेष में ही नहीं होता है'

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................