सिल्वर लेक ने रिलायंस रिटेल में 7,500 करोड़ रुपये में 1.75% हिस्सेदारी खरीदी

दुनिया की सबसे बड़ी प्रौद्योगिकी कंपनी सिल्वर लेक ने इससे पहले अरबपति कारोबारी मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की डिजिटल इकाई, जियो प्लेटफार्म्स लिमिटेड में भी निवेश किया है.

सिल्वर लेक ने रिलायंस रिटेल में 7,500 करोड़ रुपये में 1.75% हिस्सेदारी खरीदी

अरबपति कारोबारी मुकेश अंबानी.

नई दिल्ली:

अमेरिका की निजी इक्विटी फर्म सिल्वर लेक पार्टनर्स ने रिलायंस समूह की कंपनी रिलायंस रिटेल में 1.75 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी है. यह सौदा 7,500 करोड़ रुपये में हुआ है. रिलायंस ने बुधवार को जारी बयान में यह जानकारी दी है. यह निवेश रिलायंस रिटेल के 4.21 लाख करोड़ रुपये के मूल्यांकन पर किया गया है. दुनिया की सबसे बड़ी प्रौद्योगिकी कंपनी सिल्वर लेक ने इससे पहले अरबपति कारोबारी मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की डिजिटल इकाई, जियो प्लेटफार्म्स लिमिटेड में भी निवेश किया है.

बता दें, पिछले सप्ताह खबर आई थी कि अपने जियो प्लेटफॉर्म्स की कुछ हिस्सेदारी बेचने के बाद देश के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी अपने खुदरा कारोबार के लिए निवेशकों की तलाश में है. इससे पहले रिलायंस ने फ्युचर समूह के खुदरा एवं लॉजिस्टिक्स कारोबार का 24,713 करोड़ रुपये में अधिग्रहण किया था.  कच्चा तेल, रिफाइनरी और दूरसंचार क्षेत्र में काम करने वाली प्रमुख कंपनी रिलायंस ने फ्यूचर समूह के खुदरा, थोक, गोदाम और लॉजिस्टिक कारोबार के अधिग्रहण की घोषणा की थी. इस सौदे में फ्यूचर समूह की पांच सूचीबद्ध कंपनियों का फ्यूचर एंटरप्राइजेज लिमिटेड (एफईएल) में अधिग्रहण होना है.

रिलायंस ने एफईएल (विलय के बाद बनने वाली नयी कंपनी) की 6.09 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए 1,200 करोड़ रुपये के तरजीही शेयर खरीदने का भी प्रस्ताव रखा है. साथ ही 1,600 करोड़ रुपये के तरजीही वारंट (7.05 प्रतिशत और हिस्सेदारी) खरीदने का भी विकल्प दिया है. विशेषज्ञों का कहना है कि इस सौदे से रिलायंस इंडस्ट्रीज की इकाई रिलायंस रिटेल लिमिटेड की बाजार में पहुंच बढ़ जाएगी. अभी कंपनी के स्टोर देशभर में 2.87 करोड़ वर्ग फुट क्षेत्र में फैले हैं जो अधिग्रहण के बाद 5.25 करोड़ वर्गफुट हो जाएगा.