लॉकडाउन के पहले दिन शेयर बाजार में रौनक, सेंसेक्स में 1,800 अंक का उछाल

बीएसई सेंसेक्स दोपहर के कारोबार में 2068.24 अंक यानी 7.75 प्रतिशत बढ़कर 28,742.27 अंक पर चल रहा था.

लॉकडाउन के पहले दिन शेयर बाजार में रौनक, सेंसेक्स में 1,800 अंक का उछाल

सेंसेक्स-निफ्टी में बुधवार को तेजी का दौर (फाइल फोटो)

मुंबई:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कोरोना वायरस पर काबू पाने के लिए कठोर उपायों के तहत 21 दिन की देशव्यापी पूर्ण बंदी की घोषणा के बीच शेयर बाजार में प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स बुधवार को दोपहर के कारोबार में 1,800 अंक बढ़कर चल रहा था. सेंसेक्स सुबह में 600 अंक से अधिक की बढ़त के साथ खुला था लेकिन जल्द ही सेंसेक्स ने अपनी शुरुआती बढ़त खो दी. हालांकि, दोपहर के कारोबार में घरेलू शेयर बाजार में अच्छी बढ़त देखने को मिली. 

बीएसई सेंसेक्स दोपहर के कारोबार में 1806.92 अंक यानी 6.67 प्रतिशत बढ़कर 28,480.95 अंक पर चल रहा था. इसी प्रकार, एनएसई निफ्टी 493.35 अंक यानी 6.32 प्रतिशत की तेजी के साथ 8,294.40 अंक पर पहुंच गया. सेंसेक्स की बात करें तो रिलायंस इंडस्ट्रीज में सबसे अधिक 20 फीसदी की बढ़त देखने को मिली. इसके अलावा नेस्ले इंडिया, टेक महिंद्रा, एचडीएफसी, पावरग्रिड और एचयूएल में भी तेजी रही. दूसरी ओर इंडसइंड बैंक, आईटीसी, और ओएनजीसी गिरने वाले प्रमुख शेयर थे. 

कारोबारियों के मुताबिक, निवेशक मंगलवार रात घोषित 21 दिन के लॉकडाउन के आर्थिक प्रभावों का आंकलन कर रहे हैं. कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए एक अभूतपूर्व कठोर फैसले के तहत मोदी ने मंगलवार आधी रात से 21 दिन तक देशव्यापी पूर्ण बंदी का ऐलान किया था. इसके साथ ही उन्होंने इस बीमारी से निपटने के लिए स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए 15,000 करोड़ रुपये आवंटित करने की घोषणा भी की. 

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार के अनुसार 21 दिन की बंदी लागू करना एक बड़ी चुनौती है. सभी घरों में आपूर्ति सुनिश्चित करना आसान नहीं है, लेकिन ऐसा करना जरूरी है. इसके चलते अर्थव्यवस्था को अस्थायी रूप से एक बड़ा झटका लगेगा.