Profit

सेंसेक्स 64 अंक टूटकर 35,592 अंक पर हुआ बंद, निफ्टी में भी गिरावट

सोमवार को भी सेंसेक्स 350 अंक से अधिक नीचे आया था. तीन सत्रों में सेंसेक्स 600 से अधिक अंक गंवा चुका है.

 Share
EMAIL
PRINT
COMMENTS
सेंसेक्स 64 अंक टूटकर 35,592 अंक पर हुआ बंद, निफ्टी में भी गिरावट

फाइल फोटो


नई दिल्ली: 

अमेरिका चीन व्यापार विवाद को लेकर चिंता बढ़ने और मिलेजुले वैश्विक रुख के बीच मंगलवार को शेयर बाजारों में लगातार तीसरे दिन गिरावट आई. फेडरल रिजर्व की मौद्रिक बैठक, आम बजट तथा वायदा और विकल्प (एफएंडओ) खंड में निपटान से पहले निवेशकों ने कारोबार में सतर्कता बरती. इससे सेंसेक्स 64 अंक और टूटकर 35,592 अंक पर आ गया. वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 9 अंक टूटकर 10,652 अंक पर बंद हुआ. सोमवार को भी सेंसेक्स 350 अंक से अधिक नीचे आया था. तीन सत्रों में सेंसेक्स 600 से अधिक अंक गंवा चुका है. इस बीच, वैश्विक शेयर बाजार सकारात्मक रहे, जबकि एशियाई बाजारों में मिलाजुला रुख रहा. वैश्विक मोर्चे पर बात की जाए तो सभी की निगाह बृहस्पतिवार को होने वाली फेडरल रिजर्व की नीतिगत बैठक पर लगी है. इसके अलावा ब्रेक्जिट से जुड़े घटनाक्रमों पर भी सभी की निगाह होगी. घरेलू मोर्चे पर निवेशकों की निगाह आगामी एक फरवरी को पेश होने वाले बजट पर है. बजट में कुछ लोकलुभावन घोषणाओं की उम्मीद की जा रही है.

विश्लेषकों का कहना है कि यदि ऐसा होता है तो सरकार राजकोषीय मजबूती की राह से उतर सकती है. जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘वैश्विक बाजार की अनिश्चितता तथा आगामी फेडरल रिजर्व की बैठक से पहले बाजार नकारात्मक रुख के साथ खुला. हालांकि, कारोबार के अंतिम घंटे में रुपये की मजबूती तथा एफएंडओ निपटान से पहले शॉर्ट कवरिंग के चलते बाजार कुछ नुकसान की भरपाई कर पाया. आगामी बजट तथा चुनाव से जुड़ी अनिश्चितता की वजह से बाजार में उतार-चढ़ाव अभी जारी रहेगा.''

सेंसेक्स की कंपनियों में यस बैंक, एलएंडटी, एचडीएफसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक, पावरग्रिड और कोल इंडिया के शेयर 2.43 प्रतिशत तक नीचे आ गए. अन्य कंपनियों में कोटक बैंक, ओएनजीसी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एसबीआई, टाटा स्टील और इन्फोसिस भी नुकसान में रहे. वहीं दूसरी ओर सनफार्मा का शेयर 2.61 प्रतिशत चढ़ गया. बजाज फाइनेंस, एशियन पेंट, आईटीसी और एचसीएल टेक के शेयर भी लाभ में रहे.

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स मंगलवार को कारोबार के दौरान 35,734.14 अंक के उच्चस्तर तक गया तथा इसने 35,375.51 अंक का निचला स्तर भी छुआ. अंत में सेंसेक्स 64.20 अंक या 0.18 प्रतिशत के नुकसान से 35,592.50 अंक पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी 9.35 अंक या 0.09 प्रतिशत के नुकसान से 10,652.20 अंक पर बंद हुआ. इस बीच, अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में रुपया 71.09 रुपये प्रति डॉलर पर स्थिर रुख में चल रहा था. ब्रेंट कच्चा तेल 1.05 प्रतिशत चढ़कर 60.44 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया.

इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने सोमवार को शुद्ध रूप से 223.44 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे. वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 92.32 करोड़ रुपये की लिवाली की. विश्लेषकों के अनुसार अमेरिका द्वारा चीन की दूरसंचार क्षेत्र की कंपनी हुआवेई पर कई आरोप लगाए जाने के बाद वैश्विक निवेशक धारणा कमजोर हुई. यह घटनाक्रम ऐसे समय हुआ है जबकि व्यापार विवाद को लेकर अमेरिका और चीन के बीच 30 और 31 जनवरी को वार्ता होने जा रही है.

हालांकि, व्हाइट हाउस ने स्पष्ट किया है कि इन दोनों मामलों का आपस में कोई संबंध नहीं है. एशियाई बाजारों में हांगकांग का हैंगसेंग 0.16 प्रतिशत और शंघाई कम्पोजिट 0.10 प्रतिशत नीचे आया. दक्षिण कोरिया का कॉस्पी 0.28 प्रतिशत सुधर गया. जापान के निक्की में 0.07 प्रतिशत की बढ़त रही. शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार लाभ में चल रहे थे.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


बिजनेस जगत में होने वाली हर हलचल के अपडेट पाने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें.

NDTV Beeps - your daily newsletter

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

Top