अभी तक नहीं मिला सातवें वेतन आयोग के हिसाब से वेतन, इस राज्य के रोडवेज कर्मचारी हड़ताल पर

रोडवेज के एक अधिकारी ने बताया कि हड़ताल के पहले दिन प्रदेश में रोडवेज के 52 डिपो की 4 हजार 780 बसें नहीं चल सकीं.

अभी तक नहीं मिला सातवें वेतन आयोग के हिसाब से वेतन, इस राज्य के रोडवेज कर्मचारी हड़ताल पर

केंद्र में सातवां वेतन आयोग लागू हो चुका है.

जयपुर:

राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम के कर्मचारियों की हड़ताल के चलते बुधवार को प्रदेश में रोडवेज की बसे नहीं चली. निगम के कर्मचारियों ने रोडवेज में सातवें वेतन आयोग को लागू करने सहित अन्य मांगों को लेकर दो दिन की हड़ताल शुरू की है. रोडवेज के एक अधिकारी ने बताया कि हड़ताल के पहले दिन प्रदेश में रोडवेज के 52 डिपो की 4 हजार 780 बसें नहीं चल सकीं.

उन्होंने बताया कि हमारी मांग है कि रोडवेज कर्मचारियों के लिए सातवां वेतन आयोग लागू किया जाये और तीन बकाया चल रहे महंगाई भत्ते दिये जाएं. दो दिन की हड़ताल से दोनों दिन लगभग दस करोड़ रुपये की आय का नुकसान होगा. 

यातायात मंत्री यूनुस खान ने रोडवेज कर्मचारियों को हडताल खत्म करने का आग्रह किया है. उन्होंने कहा कि सरकार उनकी मांगों पर सकारात्मक तरीके से विचार कर रही है. झालावाड में संवाददाताओं से बातचीत में खान ने कहा कि रोजवेज कर्मियों की मांग के लिये सरकार की सोच सकारात्मक है, और हम हड़ताली कर्मचारियों से काम पर वापस लौटने का आग्रह करतें है.