This Article is From Oct 03, 2018

रुपये की चिंता, कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों से सेंसेक्स 550 अंक टूटा

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स कमजोर रुख से खुलने के बाद और नीचे आया. यह एक समय 35,911.82 अंक तक गिर गया था.

रुपये की चिंता, कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों से सेंसेक्स 550 अंक टूटा

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 200 अंक से अधिक गिर गया.

मुंबई:

बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स बुधवार को 550 अंक टूटकर 36,000 अंक के स्तर से नीचे आ गया. रुपये के नए सर्वकालिक निचले स्तर पर आने, कच्चे तेल की कीमतों में वृद्धि तथा विदेशी कोषों की निकासी से बाजार में जोरदार गिरावट रही. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स कमजोर रुख से खुलने के बाद और नीचे आया. यह एक समय 35,911.82 अंक तक गिर गया था. अंत में सेंसेक्स 550.51 अंक या 1.51 प्रतिशत के नुकसान से 35,975.63 अंक पर बंद हुआ. इससे पहले सोमवार को सेंसेक्स 299 अंक चढ़ा था. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी लगातार नकारात्मक दायरे में रहा और एक समय दिन के निचले स्तर 10,843.75 अंक पर आ गया. अंत में निफ्टी 150.05 अंक या 1.36 प्रतिशत के नुकसान से 10,858.25 अंक पर बंद हुआ.

भारतीय रिजर्व बैंक की द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा बैठक बुधवार को शुरू हुई. इससे निवेशकों ने सतर्कता का रुख अपनाया. माना जा रहा है कि मौद्रिक नीति समिति ब्याज दरों में चौथाई प्रतिशत की वृद्धि कर सकती है. अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में बुधवार को दिन में डॉलर के मुकाबले रुपया अपने सर्वकालिक निचले स्तर 73.41 प्रति डॉलर पर आ गया.

इस बीच, ब्रेंट क्रूड 85 डॉलर प्रति बैरल के करीब पहुंच गया है. मंगलवार को गांधी जयंती पर घरेलू बाजारों में अवकाश था. इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार सोमवार को विदेशी कोषों ने 1,842 करोड़ रुपये के शेयर बेचे. वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 1,805 करोड़ रुपये की लिवाली की.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
.