Profit

व्यापार युद्ध की चिंता से सेंसेक्स 468 अंक टूटा, निफ्टी 151 अंक कमजोर

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 151 अंक के नुकसान से 11,500 अंक के स्तर से नीचे आ गया. यह सेंसेक्स और निफ्टी का तीन सप्ताह का निचला स्तर है.

 Share
EMAIL
PRINT
COMMENTS
व्यापार युद्ध की चिंता से सेंसेक्स 468 अंक टूटा, निफ्टी 151 अंक कमजोर

फाइल फोटो


नई दिल्ली: 

व्यापार युद्ध को लेकर चिंता के बीच सोमवार को शेयर बाजारों में जोरदार गिरावट आई और यह एक प्रतिशत से अधिक नीचे आ गए. बंबई शेयर बाजार का जहां सेंसेक्स 468 अंक या 1.22 प्रतिशत के नुकसान से 38,000 अंक से नीचे आ गया. वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 151 अंक के नुकसान से 11,500 अंक के स्तर से नीचे आ गया. यह सेंसेक्स और निफ्टी का तीन सप्ताह का निचला स्तर है. रुपये के रिकॉर्ड निचले स्तर पर आने तथा चालू खाते का घाटा (कैड) बढ़ने से बाजारों की धारणा प्रभावित हुई. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 467.65 अंक या 1.22 प्रतिशत के नुकसान से 37,922.17 अंक पर बंद हुआ. यह इसकी 16 मार्च के बाद एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट है. उस दिन सेंसेक्स 509.54 अंक टूटा था.

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 151 अंक या 1.30 प्रतिशत टूटकर 11,500 अंक से नीचे 11,438.10 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान निफ्टी 11,427.30 अंक के निचले स्तर तक भी गया. यह छह फरवरी के बाद निफ्टी की एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट है. 16 अगस्त के बाद यह निफ्टी का सबसे निचला बंद स्तर है.

अमेरिका चीन के बीच व्यापार विवाद गहराने के बीच वैश्विक बाजारों के नकारात्मक संकेतों से यहां भी बाजार धारणा प्रभावित हुई. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले सप्ताह चीन से सभी तरह के आयात पर शुल्क लगाने की चेतावनी दी है. वहीं चीन ने कहा है कि यदि अमेरिका ऐसा कोई कदम उठाता है तो वह भी जवाबी कदम उठाएगा. मूडीज ने सोमवार को कहा कि रुपये में लगातार गिरावट भारतीय कंपनियों के साख की दृष्टि से नकारात्मक है. इससे भी बाजार की धारणा पर असर पड़ा. साल 2018 में रुपया 13 प्रतिशत टूटा है. इस बीच, चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में देश का चालू खाते का घाटा (कैड) बढ़कर 15.8 अरब डॉलर पर पहुंच गया है. इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में यह 15 अरब डॉलर पर था.

सेंसेक्स की कंपनियों में सनफार्मा का शेयर सबसे अधिक 3.72 प्रतिशत टूटा. कंपनी के हलोल संयंत्र के बारे में यूएसएफडीए ने निष्कर्ष जारी किए हैं. इस वजह से शुक्रवार से कंपनी का शेयर लगातार टूट रहा है. महिंद्रा एंड महिंद्रा में 3.64 प्रतिशत का नुकसान रहा. एचडीएफसी बैंक में 2.54 प्रतिशत, एचडीएफसी में 2.14 प्रतिशत तथा एसबीआई में 2.35 प्रतिशत का नुकसान रहा. रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 1.54 प्रतिशत तथा कोल इंडिया 1.96 प्रतिशत नीचे आया.

अन्य कंपनियों में वेदांता लि., इंडसइंड बैंक, एशियन पेंट, ओएनजीसी, बजाज आटो, हिंदुस्तान यूनिलीवर, कोटक बैंक, अडाणी पोर्ट्स, हीरो मोटोकॉर्प, पावरग्रिड, आईटीसी, मारुति, भारती एयरटेल, टाटा स्टील, टाटा मोटर्स, एलएंडटी, आईसीआईसीआई बैंक, एनटीपीसी तथा इन्फोसिस के शेयर 3.44 प्रतिशत नीचे आए. वहीं दूसरी ओर एक्सिस बैंक का शेयर 0.99 प्रतिशत चढ़ गया.

विप्रो में 0.26 प्रतिशत, यस बैंक में 0.09 प्रतिशत तथा टीसीएस में 0.07 प्रतिशत का लाभ रहा. बीएसई मिडकैप में 1.68 प्रतिशत, स्मालकैप में 1.07 प्रतिशत का नुकसान रहा. एशियाई बाजारों में हांगकांग का हैंगसेंग 1.30 प्रतिशत, चीन का शंघाई कम्पोजिट 0.98 प्रतिशत नीचे रहा. जापान का निक्की हालांकि 0.31 प्रतिशत के लाभ में रहा. शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार नीचे चल रहे थे.



बिजनेस जगत में होने वाली हर हलचल के अपडेट पाने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें.



Get the latest election news, live updates and election schedule for Lok Sabha Elections 2019 on ndtv.com/elections. Like us on Facebook or follow us on Twitter and Instagram for updates from each of the 543 parliamentary seats for the 2019 Indian general elections.

NDTV Beeps - your daily newsletter

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

Top