नए वित्त वर्ष 2020-21 के पहले दिन घरेलू शेयर बाजार बुरी तरह धड़ाम, सेंसेक्स 29,000 से नीचे आया

बंबई शेयर बाजार (BSE) का सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 500 अंक से ज्यादा गिर गया. बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 516.77 अंक यानी 1.75 प्रतिशत गिरकर 28,951.72 अंक पर गया.

नए वित्त वर्ष 2020-21 के पहले दिन घरेलू शेयर बाजार बुरी तरह धड़ाम, सेंसेक्स 29,000 से नीचे आया

दुनियाभर में कोरोनावायरस का प्रकोप बढ़ने और इसके चलते वैश्विक मंदी की आशंका के चलते नए वित्त वर्ष 2020-21 के पहले दिन घरेलू शेयर बाजार में शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख देखने को मिला. इस दौरान, बैंकिंग शेयरों में गिरावट का रुख देखने को मिला. बंबई शेयर बाजार (BSE) का सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 500 अंक से ज्यादा गिर गया. बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 516.77 अंक यानी 1.75 प्रतिशत गिरकर 28,951.72 अंक पर गया. इसी प्रकार, NSE का निफ्टी भी शुरुआती दौर में 86.60 अंक यानी 1.01 प्रतिशत लुढ़क कर  8,511.15 अंक पर चल रहा था. 

सेंसेक्स की कंपनियों में सबसे ज्यादा 5 प्रतिशत से अधिक की गिरावट कोटक बैंक में आई. इसके अलावा, ओएनजीसी, इंफोसिस, बजाज फाइनेंस, एचसीएल टेक, रिलायंस, महिंद्रा एंड महिंद्रा और एचडीएफसी बैंक के शेयरों में गिरावट का दौर रहा. दूसरी ओर, इंडसइंड बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, नेस्ले, पावरग्रिड के शेयरों में तेजी रही. 

बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स वित्त वर्ष 2019-20 के अंतिम दिन मंगलवार को 1,028 अंक से अधिक उछलकर 29,468.49 अंक पर बंद हुआ था. ऊर्जा, वित्तीय और दैनिक उपयोग का सामान बनाने वाली एफएमसीजी कंपनियों के शेयरों में तेजी की अगुवाई में बाजार मजबूत हुआ. 30 शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स 1,028.17 अंक यानी 3.62 प्रतिशत की तेजी के साथ 29,468.49 अंक पर बंद हुआ. इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 316.65 अंक यानी 3.82 प्रतिशत मजबूत होकर 8,597.75 अंक पर बंद हुआ था.