Profit

शेयर बाजार रिकॉर्ड ऊंचाई से फिसले, मुनाफावसूली से सेंसेक्स 383 अंक टूटा

निफ्टी में भी 119 अंक की गिरावट आई. एक्जिट पोल में भाजपा की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार के दोबारा सत्ता में आने का अनुमान लगाया गया है.

 Share
EMAIL
PRINT
COMMENTS
शेयर बाजार रिकॉर्ड ऊंचाई से फिसले, मुनाफावसूली से सेंसेक्स 383 अंक टूटा

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर


मुंबई: 

शेयर बाजार मंगलवार को शुरुआती कारोबार में रिकॉर्ड स्तर तक जाने के बाद मुनाफावसूली का सिलसिला चलने से नीचे आ गए. सोमवार को बाजार में आई तेजी के बाद निवेशकों ने जमकर मुनाफा काटा जिससे सेंसेक्स 383 अंक टूट गया. निफ्टी में भी 119 अंक की गिरावट आई. एक्जिट पोल में भाजपा की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार के दोबारा सत्ता में आने का अनुमान लगाया गया है. शुरुआती कारोबार में बाजार में तेजी आई, लेकिन बाद में मुनाफावसूली का सिलसिला चला और अंत में बाजार नुकसान के साथ बंद हुआ. सोमवार को सेंसेक्स 1,421.90 अंक या 3.75 प्रतिशत की लंबी छलांग के साथ 39,352.67 अंक और निफ्टी 421.10 अंक या 3.69 प्रतिशत के लाभ से 11,828.25 अंक पर पहुंचा था. अंक के हिसाब से सेंसेक्स और निफ्टी ने पिछले दस साल की एक सत्र की सबसे ऊंची वृद्धि दर्ज की. वहीं प्रतिशत में यह छह साल में एक दिन की सबसे बड़ी बढ़ोतरी है.

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स कारोबार के दौरान 39,571.73 अंक के रिकॉर्ड स्तर को छूने के बाद अंत में 382.87 अंक या 0.97 प्रतिशत के नुकसान से 38,969.80 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान इसने 38,884.85 अंक का निचला स्तर भी छुआ. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 119.15 अंक या 1.01 प्रतिशत के नुकसान से 11,709.10 अंक पर बंद हुआ.

सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा मोटर्स सबसे अधिक 7.05 प्रतिशत नीचे आया. कंपनी का मार्च तिमाही का मुनाफा 49 प्रतिशत घटा है. मारुति, इंडसइंड बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, भारती एयरटेल, एसबीआई, पावरग्रिड, हीरो मोटोकॉर्प, टाटा स्टील, आईसीआईसीआई बैंक, इन्फोसिस, यस बैंक और टीसीएस में भी 3.25 प्रतिशत तक की गिरावट आई. वहीं दूसरी ओर रिलायंस इंडस्ट्रीज, हिंदुस्तान यूनिलीवर और बजाज फाइनेंस के शेयर 1.08 प्रतिशत तक लाभ में रहे.

बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप में 0.84 प्रतिशत तक का नुकसान रहा. इस, बीच अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया दो प्रतिशत टूटकर 69.72 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया. ब्रेंट कच्चा तेल 0.04 प्रतिशत की बढ़त के साथ 72.01 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था. एशियाई बाजारों में मिलाजुला रुख रहा. वहीं शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार लाभ में कारोबार कर रहे थे.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV Beeps - your daily newsletter

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

Top