सेंसेक्स करीब 300 अंक लुढ़का, बैंकिंग-वित्तीय कंपनियों के शेयरों में गिरावट 

कारोबार के शुरुआती दौर में 36,339.07 अंक का निम्न स्तर छूने के बाद 30 शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स पिछले दिन के बंद के मुकाबले 277.05 अंक यानी 0.76 प्रतिशत गिरकर 36,416.64 अंक पर चल रहा था.

सेंसेक्स करीब 300 अंक लुढ़का, बैंकिंग-वित्तीय कंपनियों के शेयरों में गिरावट 

सेंसेक्स निफ्टी में शुरुआती कारोबार में गिरावट का दौर (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुंबई:

वैश्विक बाजारों में बिकवाली निकलने से बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स मंगलवार को कारोबार के शुरुआती दौर में 300 अंक से अधिक गिर गया. इस दौरान वित्तीय कंपनियों के शेयरों में गिरावट रही. कारोबार के शुरुआती दौर में 36,339.07 अंक का निम्न स्तर छूने के बाद 30 शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स पिछले दिन के बंद के मुकाबले 277.05 अंक यानी 0.76 प्रतिशत गिरकर 36,416.64 अंक पर चल रहा था. इसी प्रकार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी सूचकांक भी 74.85 अंक यानी 0.69 प्रतिशत गिरकर 10,727.85 अंक रहा. 

एचडीएफसी बैंक और एचडीएफसी लिमिटेड दोनों के शेयरों में तीन प्रतिशत तक गिरावट रही. एचडीएफसी बैंक के लंबे समय तक वाहन कर्ज का कामकाज देखने वाले अधिकारी के तौर तरीकों को लेकर जांच शुरू की गई है. यह अधिकारी 31 मार्च को सेवानिवृत हो चुका है. 

इसके साथ ही इंडसइंड बैंक, बजाज फिनसर्व, एक्सिस बैंक, बजाज फाइनेंस, मारुति और स्टेट बैंक के शेयरों में भी गिरावट रही. इसके विपरीत एचसीएल टेक, इन्फोसिस, नेस्ले इंडिया, अल्ट्रा टेक सीमेंट और आईटीसी के शेयरों में बढ़त दर्ज की गई। 

इससे पिछले सत्र सोमवार को बीएसई सेंसेक्स 99.36 अंक यानी 0.27 प्रतिशत बढ़कर 36,693.69 अंक और निफ्टी 34.65 अंक बढ़कर 10,802.70 अंक पर बंद हुआ था.  इस दौरान शेयर बाजार द्वारा उपलब्ध कराये गये अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बाजार में 221.76 करोड़ रुयये की शुद्ध लिवाली की. 

शंघाई, हांग कांग, टोक्यो और सोल के बाजारों में भी मंगलवार को शुरुआत गिरावट के साथ हुई. अमेरिका ने एक अहम नीतिगत फैसले में सोमवार को दक्षिण चीन सागर क्षेत्र में चीन के दावे को सिरे से खारिज करते हुये कहा कि इस क्षेत्र पर चीन का एकतरफा दावा करने का कोई कानूनी आधार नहीं है. 

कोरोना वायरस के मोर्चे पर संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ते जाने से चिंता बढ़ रही है. दुनियाभर में 1.30 करोड़ लोग इससे संक्रमित हैं जबकि भारत में यह आंकड़ा 9.06 लाख तक पहुंच चुका है. इस बीच अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट कच्चे तेल का वायदा भाव 2.06 प्रतिशत गिरकर 41.84 डालर प्रति बैरल रह गया.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)