Profit
होम | Ntpc

Ntpc


'Ntpc' - 4 News Result(s)

  • अप्रैल-नवंबर के दौरान कोल इंडिया की बिजली क्षेत्र को कोयला आपूर्ति 9 प्रतिशत घटी

    अप्रैल-नवंबर के दौरान कोल इंडिया की बिजली क्षेत्र को कोयला आपूर्ति 9 प्रतिशत घटी

    सार्वजनिक क्षेत्र की कोयला कंपनी ने कहा है कि वह अगले वित्त वर्ष में 75 करोड़ टन कोयले का उत्पादन करेगी. कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी का कहना है कि कोल इंडिया वित्त वर्ष 2023-24 तक अपने उत्पादन को एक अरब टन तक पहुंचाएगी. कोल इंडिया को अभी 66 करोड़ टन कोयला उत्पादन का लक्ष्य दिया गया है जो देश के कुल कोयला उत्पादन का 82 प्रतिशत बैठता है.

  • NTPC 2022 तक सौर ऊर्जा के क्षेत्र में 50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

    NTPC 2022 तक सौर ऊर्जा के क्षेत्र में  50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

    एनटीपीसी आने वाले समय में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में  50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. कंपनी के सूत्र ने बताया कि कंपनी 10 गीगावॉट तक सौर बिजली उत्पादन करना चाहती है. एनटीपीसी यह निवेश मुख्य रूप से ग्रीन बांड के जरिये करेगी.

  • कोल इंडिया को कोयले के ईंधन परिवहन लागत मद से 3,770 करोड़ रुपये की बचत

    कोल इंडिया को कोयले के ईंधन परिवहन लागत मद से 3,770 करोड़ रुपये की बचत

    कोल इंडिया के सूत्रों ने कहा कि युक्तिसंगत नीति के तहत कुल 6.3 करोड़ टन कोयले की आवाजाही शामिल है.  खनन कंपनी ने कहा, ‘‘कोल इंडिया की 2015 से कोयला व्यवस्था को युक्तिसंगत बनाने की नीति के कारण देश में 58 तापीय बिजली संयंत्रों को ईंधन परिवहन लागत मद में सालाना 3,770 करोड़ रुपये की बचत हुई है.’’    

  • हरित बांड से 10 हजार करोड़ रुपये जुटा सकती है NTPC

    हरित बांड से 10 हजार करोड़ रुपये जुटा सकती है NTPC

    सरकारी कंपनी एनटीपीसी हरित बांड के जरिये करीब 10 हजार करोड़ रुपये जुटा सकती है. इस पूंजी का इस्तेमाल टीएचडीसीआईएल और नॉर्थ ईस्टर्न इलेक्ट्रिक पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (नीपको) में सरकारी हिस्सेदारी का अधिग्रहण करने में किया जा सकता है.

'Ntpc' - 4 News Result(s)

  • अप्रैल-नवंबर के दौरान कोल इंडिया की बिजली क्षेत्र को कोयला आपूर्ति 9 प्रतिशत घटी

    अप्रैल-नवंबर के दौरान कोल इंडिया की बिजली क्षेत्र को कोयला आपूर्ति 9 प्रतिशत घटी

    सार्वजनिक क्षेत्र की कोयला कंपनी ने कहा है कि वह अगले वित्त वर्ष में 75 करोड़ टन कोयले का उत्पादन करेगी. कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी का कहना है कि कोल इंडिया वित्त वर्ष 2023-24 तक अपने उत्पादन को एक अरब टन तक पहुंचाएगी. कोल इंडिया को अभी 66 करोड़ टन कोयला उत्पादन का लक्ष्य दिया गया है जो देश के कुल कोयला उत्पादन का 82 प्रतिशत बैठता है.

  • NTPC 2022 तक सौर ऊर्जा के क्षेत्र में 50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

    NTPC 2022 तक सौर ऊर्जा के क्षेत्र में  50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

    एनटीपीसी आने वाले समय में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में  50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. कंपनी के सूत्र ने बताया कि कंपनी 10 गीगावॉट तक सौर बिजली उत्पादन करना चाहती है. एनटीपीसी यह निवेश मुख्य रूप से ग्रीन बांड के जरिये करेगी.

  • कोल इंडिया को कोयले के ईंधन परिवहन लागत मद से 3,770 करोड़ रुपये की बचत

    कोल इंडिया को कोयले के ईंधन परिवहन लागत मद से 3,770 करोड़ रुपये की बचत

    कोल इंडिया के सूत्रों ने कहा कि युक्तिसंगत नीति के तहत कुल 6.3 करोड़ टन कोयले की आवाजाही शामिल है.  खनन कंपनी ने कहा, ‘‘कोल इंडिया की 2015 से कोयला व्यवस्था को युक्तिसंगत बनाने की नीति के कारण देश में 58 तापीय बिजली संयंत्रों को ईंधन परिवहन लागत मद में सालाना 3,770 करोड़ रुपये की बचत हुई है.’’    

  • हरित बांड से 10 हजार करोड़ रुपये जुटा सकती है NTPC

    हरित बांड से 10 हजार करोड़ रुपये जुटा सकती है NTPC

    सरकारी कंपनी एनटीपीसी हरित बांड के जरिये करीब 10 हजार करोड़ रुपये जुटा सकती है. इस पूंजी का इस्तेमाल टीएचडीसीआईएल और नॉर्थ ईस्टर्न इलेक्ट्रिक पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (नीपको) में सरकारी हिस्सेदारी का अधिग्रहण करने में किया जा सकता है.

Your search did not match any documents
A few suggestions
  • Make sure all words are spelled correctly
  • Try different keywords
  • Try more general keywords
Check the NDTV Archives:https://archives.ndtv.com

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com