Profit
होम | Economies

Economies


'Economies' - 701 News Result(s)

  • SBI को चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा GDP के 13 प्रतिशत पर पहुंच जाने का अनुमान

    SBI को चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा GDP के 13 प्रतिशत पर पहुंच जाने का अनुमान

    केंद्र सरकार का राजकोषीय घाटा चालू वित्त वर्ष में उसके तय अनुमान से कहीं आगे निकल सकता है. वर्ष के दौरान राज्यों तथा केंद्र का कुल राजकोषीय घाटा सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 13 प्रतिशत को छू सकता है. एक रिपोर्ट में यह कहा गया है. एसबीआई रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार, इस साल बाजार मूल्य पर आधारित जीडीपी के वित्त वर्ष 2018-19 के स्तर से नीचे रहने के अनुमान हैं.

  • बैंक कर्ज में 5.26 प्रतिशत, जमा में 11.98 प्रतिशत वृद्धि: आरबीआई आंकड़ा

    बैंक कर्ज में 5.26 प्रतिशत, जमा में 11.98 प्रतिशत वृद्धि: आरबीआई आंकड़ा

    गत 11 सितंबर को समाप्त पखवाड़े में बैंकों का कर्ज 5.26 प्रतिशत बढ़कर 102.24 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया जबकि इस दौरान ग्राहकों की बैंकों में जमाराशि करीब 12 प्रतिशत बढ़कर 142.48 लाख करोड़ रुपये हो गई. रिजर्व बैंक के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है. इस दौरान पिछले साल के मुकाबले जहां एक तरफ कुल कर्ज की वृद्धि धीमी रही है वहीं यदि अलग अलग रेणी की बात की जाये तो वाहन के लिये कर्ज वृद्धि पिछले साल के 4.9 प्रतिशत के मुकाबले बढ़कर 8.1 प्रतिशत रही है.

  • Covid-19 महामारी के बीच 2020 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 5.9 प्रतिशत की कमी का अनुमान: संरा

    Covid-19 महामारी के बीच 2020 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 5.9 प्रतिशत की कमी का अनुमान: संरा

    संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी के प्रकोप के चलते भारतीय अर्थव्यवस्था में 2020 के दौरान 5.9 प्रतिशत की कमी आने का अनुमान है और चेतावनी दी गई कि वृद्धि अगले साल भी पटरी पर लौट सकती है, लेकिन संकुचन के चलते स्थाई रूप से आय में कमी होने की आशंका है. अंकटाड की ‘व्यापार एवं विकास रिपोर्ट 2020’ में मंगलवार को कहा गया कि वैश्विक अर्थव्यवस्था गहरी मंदी का सामना कर रही है और महामारी पर अभी तक काबू नहीं पाया जा सका है, व्यापार और विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (अंकटाड) की इस रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि इस साल वैश्विक अर्थव्यवस्था में 4.3 प्रतिशत की कमी होगी. 

  • अगस्त में भारत के निर्यात में 12.66 प्रतिशत की गिरावट

    अगस्त में भारत के निर्यात में 12.66 प्रतिशत की गिरावट

    देश के निर्यात में लगातार छठे महीने गिरावट दर्ज की गयी है. पेट्रोलियम, चमड़ा, इंजीनियरिंग सामान और रत्न एवं आभूषण के निर्यात में कमी से देश का कुल निर्यात अगस्त महीने में 12.66 प्रतिशत घटकर 22.7 अरब डॉलर रहा.

  • ADB का अनुमान, 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में आएगी 9 प्रतिशत की गिरावट

    ADB का अनुमान, 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में आएगी 9 प्रतिशत की गिरावट

    एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने चालू वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में नौ प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया है. एडीबी की ओर से मंगलवार को जारी एशियाई विकास परिदृश्य (एडीओ)-2020 अपडेट में कहा गया है कि भारत में कोरोना वायरस की वजह से आर्थिक गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित हुई हैं. इसका असर उपभोक्ता धारणा पर भी पड़ा है, जिससे चालू वित्त वर्ष में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में नौ प्रतिशत की गिरावट आएगी. हालांकि, एडीबी का अनुमान है कि अगले वित्त वर्ष 2021-22 में भारतीय अर्थव्यवस्था में बड़ा उछाल आएगा. 

  • खुदरा मुद्रास्फीति अगस्त में मामूली घटकर 6.69 प्रतिशत

    खुदरा मुद्रास्फीति अगस्त में मामूली घटकर 6.69 प्रतिशत

    कुछ खाद्य पदार्थों की महंगाई दर कम होने से खुदरा मुद्रास्फीति अगस्त महीने में मामूली घटकर 6.69 प्रतिशत रही. हालांकि आधिकारिक आंकड़े के अनुसार विनिर्मित उत्पाद महंगे होने से अगस्त में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति बढ़कर पांच महीने के उच्च स्तर 0.16 प्रतिशत पर पहुंच गई.

  • जुलाई में औद्योगिक उत्पादन 10.4 प्रतिशत घटा

    जुलाई में औद्योगिक उत्पादन 10.4 प्रतिशत घटा

    विनिर्माण, खनन और बिजली क्षेत्र के खराब प्रदर्शन की वजह से जुलाई माह में औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) में 10.4 प्रतिशत की गिरावट आई है. शुक्रवार को जारी सरकारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है. आंकड़ों के अनुसार, जुलाई में विनिर्माण क्षेत्र के उत्पादन में 11.1 प्रतिशत की गिरावट रही. इसी तरह खनन क्षेत्र का उत्पादन 13 प्रतिशत तथा बिजली क्षेत्र का उत्पादन 2.5 प्रतिशत घटा.

  • फिच का 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान

    फिच का 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान

    फिच रेटिंग्स ने चालू वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की भारी गिरावट का अनुमान लगाया है. चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) में भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 23.9 प्रतिशत की गिरावट आई है. यह दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में गिरावट के सबसे ऊंचे आंकड़ों में से है. कोरोना वायरस महामारी की वजह से देश में सख्त लॉकडाउन लगाया गया था. इसे अर्थव्यवस्था में गिरावट की एक बड़ी वजह माना जा रहा है. 

  • सेवा क्षेत्र की गतिविधियों में अगस्त में सुधार: मासिक सर्वेक्षण

    सेवा क्षेत्र की गतिविधियों में अगस्त में सुधार: मासिक सर्वेक्षण

    मौसमी रूप से समायोजित ‘भारत सेवा कारोबार गतिविधि सूचकांक’ अगस्त में बढ़कर 41.8 पर पहुंच गया. यह सूचकांक जुलाई में 34.2 था. यह मार्च में कोरोना वायरस महामारी के फैलाव के बाद सबसे अधिक है.

  • कोरोना से जंग : CM विजय रूपाणी ने की 14,000 करोड़ रुपये के 'गुजरात आत्मनिर्भर' पैकेज की घोषणा

    कोरोना से जंग : CM विजय रूपाणी ने की 14,000 करोड़ रुपये के 'गुजरात आत्मनिर्भर' पैकेज की घोषणा

    मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने पूर्व केंद्रीय वित्त सचिव हसमुख अधिया की अगुवाई वाली एक समिति की सिफारिशों के आधार पर समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों को पैकेज के ज़रिये राहत की घोषणा की. रूपाणी ने कहा, "हमने राज्य के आर्थिक पुनरुद्धार के लिए हसमुख अधिया समिति की नियुक्ति की थी... समिति ने अपनी अंतरिम रिपोर्ट दे दी है..."

  • सरकार ने 50,000 करोड़ रुपये की इलेक्ट्रॉनिक प्रोत्साहन योजनाओं के लिये आवेदन आमंत्रित किये

    सरकार ने 50,000 करोड़ रुपये की इलेक्ट्रॉनिक प्रोत्साहन योजनाओं के लिये आवेदन आमंत्रित किये

    केंद्र सरकार ने मंगलवार को मोबाइल उपकरण बनाने वाली वैश्विक कंपनियों को आकर्षित करने और इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण को प्रोत्साहन के लिये 50,000 करोड़ रुपये की प्रोत्साहन योजनाओं के तहत मदद के लिए आवेदन आमंत्रित करने काम शुरू कर दिया.  सूचना प्रौद्योगिकी और दूरसंचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि भारत दुनिया की शीर्ष मोबाइल विनिर्माता कंपनियों को आकर्षित करना चाहेगा तथा पांच चुनिंदा स्थानीय कंपनियों को बढ़ावा दिया जाएगा.

  • एक लाख करोड़ रुपये से नीचे आया GST संग्रह, मार्च में जमा हुए महज 97,597 करोड़

    एक लाख करोड़ रुपये से नीचे आया GST संग्रह, मार्च में जमा हुए महज 97,597 करोड़

    अर्थव्यवस्था में पहले से ही जारी नरमी के बीच कोरोना वायरस महामारी के कारण कंपनियों का परिचालन ठप होने से मार्च में माल एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह पिछले चार महीने में पहली बार एक लाख करोड़ रुपये के स्तर से नीचे आ गया.

  • भारत में वर्तमान चुनौतीपूर्ण समय ''एक अवसर'' साबित हो सकता है: अमेरिकी समूह

    भारत में वर्तमान चुनौतीपूर्ण समय ''एक अवसर'' साबित हो सकता है: अमेरिकी समूह

    भारत केंद्रित एक अमेरिकी उद्योग-व्यापार मंडल ने कहा है कि कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए भारत में जारी 21 दिनों का लॉकडाउन देश के लिए ‘‘एक अवसर’’ हो सकता है. समूह ने कहा कि इस कदम से सरकार के नीति निर्धारण में पारदर्शिता का पता चलता है, जिसके चलते विदेशी निवेश आकर्षित करने में मदद मिलेगी. भारत में कोरोना वायरस से 19 लोगों की मौत हो चुकी है और 870 से अधिक संक्रमित हैं. इस महामारी को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को तीन हफ्तों के लिए देशव्यापी बंद का ऐलान किया था.

  • कोरोना वायरस: फरवरी में कोयला आयात 14 प्रतिशत घटा

    कोरोना वायरस: फरवरी में कोयला आयात 14 प्रतिशत घटा

    कोरोना वायरस की मार से देश का कोयले का आयात भी प्रभावित हुआ है. उद्योग के आंकड़ों के अनुसार फरवरी में कोयले का आयात 14.1 प्रतिशत घटकर 1.70 करोड़ टन पर आ गया. एमजंक्शन सर्विसेज के अस्थायी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है. फरवरी, 2019 में देश का कोयला आयात 1.98 करोड़ टन रहा था. एमजंक्शन टाटा स्टील और सेल का संयुक्त उद्यम है. यह एक बी2बी ई-कॉमर्स कंपनी है जो कोयला और इस्पात पर शोध रपट भी प्रकाशित करती है.

  • भारतीय स्टेट बैंक को मिली यस बैंक में 7,250 करोड़ रुपये लगाने की मंजूरी

    भारतीय स्टेट बैंक को मिली यस बैंक में 7,250 करोड़ रुपये लगाने की मंजूरी

    देश के सबसे बड़े ऋणदाता स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने गुरुवार को कहा कि ऋणदाता बोर्ड ने यस बैंक लिमिटेड में 725 करोड़ के शेयर की खरीदारी पर सहमति दे दी है. इन शेयर को 10 रुपये प्रति शेयर की कीमत पर खरीदा जाएगा. इस घोषणा से साफ है कि सरकारी ऋणदाता एसबीआई आर्थिक संकट से जूझ रहे यस बैंक में 7,250 करोड़ रुपये की पूंजी लगाएगा. गुरुवार को एसबीआई के केंद्रीय बोर्ड की कार्यकारी समिति ने बताया कि 11 मार्च को आयोजित एक मीटिंग में यह फैसला लिया गया कि एसबीआई की यस बैंक में 49 प्रतिशत तक की हिस्सेदारी रहेगी.

'Economies' - 701 News Result(s)

  • SBI को चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा GDP के 13 प्रतिशत पर पहुंच जाने का अनुमान

    SBI को चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा GDP के 13 प्रतिशत पर पहुंच जाने का अनुमान

    केंद्र सरकार का राजकोषीय घाटा चालू वित्त वर्ष में उसके तय अनुमान से कहीं आगे निकल सकता है. वर्ष के दौरान राज्यों तथा केंद्र का कुल राजकोषीय घाटा सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 13 प्रतिशत को छू सकता है. एक रिपोर्ट में यह कहा गया है. एसबीआई रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार, इस साल बाजार मूल्य पर आधारित जीडीपी के वित्त वर्ष 2018-19 के स्तर से नीचे रहने के अनुमान हैं.

  • बैंक कर्ज में 5.26 प्रतिशत, जमा में 11.98 प्रतिशत वृद्धि: आरबीआई आंकड़ा

    बैंक कर्ज में 5.26 प्रतिशत, जमा में 11.98 प्रतिशत वृद्धि: आरबीआई आंकड़ा

    गत 11 सितंबर को समाप्त पखवाड़े में बैंकों का कर्ज 5.26 प्रतिशत बढ़कर 102.24 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया जबकि इस दौरान ग्राहकों की बैंकों में जमाराशि करीब 12 प्रतिशत बढ़कर 142.48 लाख करोड़ रुपये हो गई. रिजर्व बैंक के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है. इस दौरान पिछले साल के मुकाबले जहां एक तरफ कुल कर्ज की वृद्धि धीमी रही है वहीं यदि अलग अलग रेणी की बात की जाये तो वाहन के लिये कर्ज वृद्धि पिछले साल के 4.9 प्रतिशत के मुकाबले बढ़कर 8.1 प्रतिशत रही है.

  • Covid-19 महामारी के बीच 2020 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 5.9 प्रतिशत की कमी का अनुमान: संरा

    Covid-19 महामारी के बीच 2020 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 5.9 प्रतिशत की कमी का अनुमान: संरा

    संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी के प्रकोप के चलते भारतीय अर्थव्यवस्था में 2020 के दौरान 5.9 प्रतिशत की कमी आने का अनुमान है और चेतावनी दी गई कि वृद्धि अगले साल भी पटरी पर लौट सकती है, लेकिन संकुचन के चलते स्थाई रूप से आय में कमी होने की आशंका है. अंकटाड की ‘व्यापार एवं विकास रिपोर्ट 2020’ में मंगलवार को कहा गया कि वैश्विक अर्थव्यवस्था गहरी मंदी का सामना कर रही है और महामारी पर अभी तक काबू नहीं पाया जा सका है, व्यापार और विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (अंकटाड) की इस रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि इस साल वैश्विक अर्थव्यवस्था में 4.3 प्रतिशत की कमी होगी. 

  • अगस्त में भारत के निर्यात में 12.66 प्रतिशत की गिरावट

    अगस्त में भारत के निर्यात में 12.66 प्रतिशत की गिरावट

    देश के निर्यात में लगातार छठे महीने गिरावट दर्ज की गयी है. पेट्रोलियम, चमड़ा, इंजीनियरिंग सामान और रत्न एवं आभूषण के निर्यात में कमी से देश का कुल निर्यात अगस्त महीने में 12.66 प्रतिशत घटकर 22.7 अरब डॉलर रहा.

  • ADB का अनुमान, 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में आएगी 9 प्रतिशत की गिरावट

    ADB का अनुमान, 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में आएगी 9 प्रतिशत की गिरावट

    एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने चालू वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में नौ प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया है. एडीबी की ओर से मंगलवार को जारी एशियाई विकास परिदृश्य (एडीओ)-2020 अपडेट में कहा गया है कि भारत में कोरोना वायरस की वजह से आर्थिक गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित हुई हैं. इसका असर उपभोक्ता धारणा पर भी पड़ा है, जिससे चालू वित्त वर्ष में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में नौ प्रतिशत की गिरावट आएगी. हालांकि, एडीबी का अनुमान है कि अगले वित्त वर्ष 2021-22 में भारतीय अर्थव्यवस्था में बड़ा उछाल आएगा. 

  • खुदरा मुद्रास्फीति अगस्त में मामूली घटकर 6.69 प्रतिशत

    खुदरा मुद्रास्फीति अगस्त में मामूली घटकर 6.69 प्रतिशत

    कुछ खाद्य पदार्थों की महंगाई दर कम होने से खुदरा मुद्रास्फीति अगस्त महीने में मामूली घटकर 6.69 प्रतिशत रही. हालांकि आधिकारिक आंकड़े के अनुसार विनिर्मित उत्पाद महंगे होने से अगस्त में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति बढ़कर पांच महीने के उच्च स्तर 0.16 प्रतिशत पर पहुंच गई.

  • जुलाई में औद्योगिक उत्पादन 10.4 प्रतिशत घटा

    जुलाई में औद्योगिक उत्पादन 10.4 प्रतिशत घटा

    विनिर्माण, खनन और बिजली क्षेत्र के खराब प्रदर्शन की वजह से जुलाई माह में औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) में 10.4 प्रतिशत की गिरावट आई है. शुक्रवार को जारी सरकारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है. आंकड़ों के अनुसार, जुलाई में विनिर्माण क्षेत्र के उत्पादन में 11.1 प्रतिशत की गिरावट रही. इसी तरह खनन क्षेत्र का उत्पादन 13 प्रतिशत तथा बिजली क्षेत्र का उत्पादन 2.5 प्रतिशत घटा.

  • फिच का 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान

    फिच का 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान

    फिच रेटिंग्स ने चालू वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की भारी गिरावट का अनुमान लगाया है. चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) में भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 23.9 प्रतिशत की गिरावट आई है. यह दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में गिरावट के सबसे ऊंचे आंकड़ों में से है. कोरोना वायरस महामारी की वजह से देश में सख्त लॉकडाउन लगाया गया था. इसे अर्थव्यवस्था में गिरावट की एक बड़ी वजह माना जा रहा है. 

  • सेवा क्षेत्र की गतिविधियों में अगस्त में सुधार: मासिक सर्वेक्षण

    सेवा क्षेत्र की गतिविधियों में अगस्त में सुधार: मासिक सर्वेक्षण

    मौसमी रूप से समायोजित ‘भारत सेवा कारोबार गतिविधि सूचकांक’ अगस्त में बढ़कर 41.8 पर पहुंच गया. यह सूचकांक जुलाई में 34.2 था. यह मार्च में कोरोना वायरस महामारी के फैलाव के बाद सबसे अधिक है.

  • कोरोना से जंग : CM विजय रूपाणी ने की 14,000 करोड़ रुपये के 'गुजरात आत्मनिर्भर' पैकेज की घोषणा

    कोरोना से जंग : CM विजय रूपाणी ने की 14,000 करोड़ रुपये के 'गुजरात आत्मनिर्भर' पैकेज की घोषणा

    मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने पूर्व केंद्रीय वित्त सचिव हसमुख अधिया की अगुवाई वाली एक समिति की सिफारिशों के आधार पर समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों को पैकेज के ज़रिये राहत की घोषणा की. रूपाणी ने कहा, "हमने राज्य के आर्थिक पुनरुद्धार के लिए हसमुख अधिया समिति की नियुक्ति की थी... समिति ने अपनी अंतरिम रिपोर्ट दे दी है..."

  • सरकार ने 50,000 करोड़ रुपये की इलेक्ट्रॉनिक प्रोत्साहन योजनाओं के लिये आवेदन आमंत्रित किये

    सरकार ने 50,000 करोड़ रुपये की इलेक्ट्रॉनिक प्रोत्साहन योजनाओं के लिये आवेदन आमंत्रित किये

    केंद्र सरकार ने मंगलवार को मोबाइल उपकरण बनाने वाली वैश्विक कंपनियों को आकर्षित करने और इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण को प्रोत्साहन के लिये 50,000 करोड़ रुपये की प्रोत्साहन योजनाओं के तहत मदद के लिए आवेदन आमंत्रित करने काम शुरू कर दिया.  सूचना प्रौद्योगिकी और दूरसंचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि भारत दुनिया की शीर्ष मोबाइल विनिर्माता कंपनियों को आकर्षित करना चाहेगा तथा पांच चुनिंदा स्थानीय कंपनियों को बढ़ावा दिया जाएगा.

  • एक लाख करोड़ रुपये से नीचे आया GST संग्रह, मार्च में जमा हुए महज 97,597 करोड़

    एक लाख करोड़ रुपये से नीचे आया GST संग्रह, मार्च में जमा हुए महज 97,597 करोड़

    अर्थव्यवस्था में पहले से ही जारी नरमी के बीच कोरोना वायरस महामारी के कारण कंपनियों का परिचालन ठप होने से मार्च में माल एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह पिछले चार महीने में पहली बार एक लाख करोड़ रुपये के स्तर से नीचे आ गया.

  • भारत में वर्तमान चुनौतीपूर्ण समय ''एक अवसर'' साबित हो सकता है: अमेरिकी समूह

    भारत में वर्तमान चुनौतीपूर्ण समय ''एक अवसर'' साबित हो सकता है: अमेरिकी समूह

    भारत केंद्रित एक अमेरिकी उद्योग-व्यापार मंडल ने कहा है कि कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए भारत में जारी 21 दिनों का लॉकडाउन देश के लिए ‘‘एक अवसर’’ हो सकता है. समूह ने कहा कि इस कदम से सरकार के नीति निर्धारण में पारदर्शिता का पता चलता है, जिसके चलते विदेशी निवेश आकर्षित करने में मदद मिलेगी. भारत में कोरोना वायरस से 19 लोगों की मौत हो चुकी है और 870 से अधिक संक्रमित हैं. इस महामारी को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को तीन हफ्तों के लिए देशव्यापी बंद का ऐलान किया था.

  • कोरोना वायरस: फरवरी में कोयला आयात 14 प्रतिशत घटा

    कोरोना वायरस: फरवरी में कोयला आयात 14 प्रतिशत घटा

    कोरोना वायरस की मार से देश का कोयले का आयात भी प्रभावित हुआ है. उद्योग के आंकड़ों के अनुसार फरवरी में कोयले का आयात 14.1 प्रतिशत घटकर 1.70 करोड़ टन पर आ गया. एमजंक्शन सर्विसेज के अस्थायी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है. फरवरी, 2019 में देश का कोयला आयात 1.98 करोड़ टन रहा था. एमजंक्शन टाटा स्टील और सेल का संयुक्त उद्यम है. यह एक बी2बी ई-कॉमर्स कंपनी है जो कोयला और इस्पात पर शोध रपट भी प्रकाशित करती है.

  • भारतीय स्टेट बैंक को मिली यस बैंक में 7,250 करोड़ रुपये लगाने की मंजूरी

    भारतीय स्टेट बैंक को मिली यस बैंक में 7,250 करोड़ रुपये लगाने की मंजूरी

    देश के सबसे बड़े ऋणदाता स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने गुरुवार को कहा कि ऋणदाता बोर्ड ने यस बैंक लिमिटेड में 725 करोड़ के शेयर की खरीदारी पर सहमति दे दी है. इन शेयर को 10 रुपये प्रति शेयर की कीमत पर खरीदा जाएगा. इस घोषणा से साफ है कि सरकारी ऋणदाता एसबीआई आर्थिक संकट से जूझ रहे यस बैंक में 7,250 करोड़ रुपये की पूंजी लगाएगा. गुरुवार को एसबीआई के केंद्रीय बोर्ड की कार्यकारी समिति ने बताया कि 11 मार्च को आयोजित एक मीटिंग में यह फैसला लिया गया कि एसबीआई की यस बैंक में 49 प्रतिशत तक की हिस्सेदारी रहेगी.

Your search did not match any documents
A few suggestions
  • Make sure all words are spelled correctly
  • Try different keywords
  • Try more general keywords
Check the NDTV Archives:https://archives.ndtv.com

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com