Profit
होम | विषय | Crude Oil

Crude Oil


'Crude Oil' - 17 News Result(s)

  • मई में 16 फीसदी टूटा कच्चा तेल, सस्ते होंगे पेट्रोल, डीजल

    मई में 16 फीसदी टूटा कच्चा तेल, सस्ते होंगे पेट्रोल, डीजल

    अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बीते दिनों घटने के कारण ही घरेलू तेल विपणन कंपनियों ने शनिवार को लगातार तीसरे दिन पेट्रोल और डीजल के दाम में कटौती जारी रखी. उर्जा विशेषज्ञ नरेंद्र तनेजा ने कहा कि निस्संदेह यह देश की नई सरकार के लिए अच्छी खबर है कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव में भारी गिरावट आई.

  • पेट्रोल, डीजल के दाम में गिरावट का सिलसिला थमा, कच्चे तेल में भी नरमी

    पेट्रोल, डीजल के दाम में गिरावट का सिलसिला थमा, कच्चे तेल में भी नरमी

    पेट्रोल और डीजल के दाम में पिछले छह दिन से जारी गिरावट का सिलिसिला बुधवार को थम गया. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत देश के विभिन्न महानगरों में तेल के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ. उधर, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में भी नरमी दर्ज की गई.

  • कच्चा तेल, रुपया, कंपनियों के तिमाही नतीजे तय करेंगे बाजार की चाल

    कच्चा तेल, रुपया, कंपनियों के तिमाही नतीजे तय करेंगे बाजार की चाल

    इस सप्ताह शेयर बाजार में सिर्फ तीन दिन कारोबार होगा. सोमवार को मुंबई में लोकसभा चुनाव के लिये मतदान के कारण तथा बुधवार को महाराष्ट्र दिवस को लेकर शेयर बाजार में कारोबार नहीं होगा.

  • पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर, कच्चे तेल में तेजी अभी भी जारी

    पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर, कच्चे तेल में तेजी अभी भी जारी

    अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में इजाफा होने से आने वाले दिनों में भारत में पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने की संभावना बनी हुई है. अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में आई तेजी से घरेलू वायदा बाजार एमसीएक्स पर भी कच्चे तेल के सौदों में उछाल दर्ज किया गया है.

  • कच्चे तेल में तेजी से फिर बढ़ेंगे पेट्रोल, डीजल के दाम

    कच्चे तेल में तेजी से फिर बढ़ेंगे पेट्रोल, डीजल के दाम

    ब्रेंट क्रूड का भाव 70 डॉलर प्रति बैरल से ऊपर चला गया है, जो नवंबर के बाद का उच्चतम स्तर है. ब्रेंट क्रूड के दाम में इस साल अबतक 34 फीसदी का इजाफा हुआ है. पिछले दो सप्ताह में ब्रेंट क्रूड के दाम में 3.65 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है, जिसका असर आने वाले दिनों में देखा जा सकता है. दरअसल, भारत अपनी तेल की खपत की 80 फीसदी जरूरतों की पूर्ति आयात से करता है, इसलिए पेट्रोल और डीजल की कीमतों का निर्धारण अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में चढ़ाव-उतार के अनुसार तय होता है.

  • कच्चे तेल की कीमत, रुपये की चाल से तय होगी शेयर बाजार की दिशा

    कच्चे तेल की कीमत, रुपये की चाल से तय होगी शेयर बाजार की दिशा

    विश्लेषकों का मानना है कि अमेरिका और चीन के बीच व्यापार वार्ता पर भी निवेशकों की नजर रहेगी. एपिक रिसर्च के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) मुस्तफा नदीम ने कहा, 'इस सप्ताह घरेलू स्तर पर कोई आंकड़ा नहीं आने आएगा. ऐसे में निवेशकों की निगाह कच्चे तेल की कीमतों, डॉलर-रुपये के उतार-चढ़ाव और वैश्विक बाजारों की चाल पर रहेगी.'

  • कमजोर वैश्विक रुख से कच्चा तेल वायदा भाव 0.88% फिसला

    कमजोर वैश्विक रुख से कच्चा तेल वायदा भाव 0.88% फिसला

    इसमें 7,951 लॉट का कारोबार हुआ. बाजार जानकारों ने कहा कि एशियाई बाजारों में कमजोर रुख के साथ कारोबारियों के सौदे कम करने से वायदा कारोबार में कच्चे तेल में गिरावट रही. इस बीच, वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट कच्चा तेल 0.63 प्रतिशत गिरकर 53.70 डॉलर पर जबकि ब्रेंट कच्चा तेल 0.80 प्रतिशत गिरकर 62.24 डॉलर प्रति बैरल पर रहा.

  • इस सप्ताह 11 फीसदी लुढ़का कच्चा तेल, घटेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम

    इस सप्ताह 11 फीसदी लुढ़का कच्चा तेल, घटेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम

    अंतरराष्ट्रीय बाजार में इस सप्ताह कच्चे तेल के दाम में आई भारी गिरावट से आगे भारतीय उपभोक्ताओं को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में और राहत मिल सकती है. ब्रेंट क्रूड के भाव में इस सप्ताह करीब 11 फीसदी की गिरावट आई है.

  • रुपये ने डॉलर के खिलाफ लगाई पांच वर्षो की सबसे ऊंची कूद, 112 पैसे सुधार

    रुपये ने डॉलर के खिलाफ लगाई पांच वर्षो की सबसे ऊंची कूद, 112 पैसे सुधार

    रुपये की विनिमय दर में पांच साल से भी अधिक समय में यह एक दिन का सबसे बड़ा सुधार है. निर्यातकों और बैंकों द्वारा डॉलर की सतत बिकवाली के साथ साथ अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नीतिगत बैठक से पहले वैश्विक स्तर पर प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजोर होने से रुपये को बल मिला.

  • अप्रैल के बाद कच्चा तेल पहली बार 70 डॉलर से नीचे

    अप्रैल के बाद कच्चा तेल पहली बार 70 डॉलर से नीचे

    यह अप्रैल 2018 के बाद पहली बार 70 डॉलर प्रति बैरल के स्तर से नीचे आया है. लंदन में सुबह के सौदों में ब्रेंट क्रूड (उत्तरी सागर) जनवरी डिलीवरी 96 सेंट गिरकर 69.69 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया. 

  • मुंबई में डीजल पहली बार 80 के पार, नवंबर 2014 के बाद कच्चे तेल की कीमत सबसे ज्यादा

    मुंबई में डीजल पहली बार 80 के पार, नवंबर 2014 के बाद कच्चे तेल की कीमत सबसे ज्यादा

    पेट्रोल-डीजल की कीमतें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. आज यानी बुधवार को एक बार फिर से तेल के दाम बढ़े. दिल्ली में जहां पेट्रोल 15 पैसे और डीजल 22 पैसे महंगा हुआ. दिल्ली में पेट्रोल 84 रुपये और डीज़ल 75.45 रुपये प्रति लीटर है. वहीं मुंबई में डीजल पहली बार की 21 पैसे की बढ़ोतरी के साथ 80 पार पहुंच गया. वहीं पेट्रोल 91.34 रुपये प्रति लीटर बिक रहा. अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में आई तेजी की वजह से पेट्रोल और डीजल के दाम में इजाफा हो रहा है. 

  • रुपये पर दबाव, कच्चे तेल में उछाल के बीच शेयर बाजारों में लगातार पांचवे दिन गिरावट

    रुपये पर दबाव, कच्चे तेल में उछाल के बीच शेयर बाजारों में लगातार पांचवे दिन गिरावट

    कच्चे तेल के बढ़ते दाम और गिरते रुपये की चिंता में मंगलवार को लगातार पांचवें कार्यदिवस को शेयर बाजारों में गिरावट का रुख रहा. बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स आज 155 अंक गिरकर 38,157.92 अंक पर बंद हुआ. इस दौरान टिकाऊ उपभोक्ता सामानों, वित्त एवं बैंकिंग क्षेत्र के शेयरों में भारी बिकवाली का जोर रहा. पिछले तीन माह के दौरान शेयर बाजार में लगातार गिरावट का सबसे लंबा दौर है. व्यापक आधार वाले निफ्टी में भी लगातार दूसरे दिन गिरावट का रुख रहा. निफ्टी 62.05 अंक यानी 0.54 प्रतिशत गिरकर 11,520.30 अंक पर बंद हुआ. कच्चे तेल के दाम बढ़ने और रुपये के गिरने से निवेशकों की चिंता बढ़ गई.

  • कमजोर वैश्विक रुख से वायदा बाजार में कच्चे तेल भाव में नरमी

    कमजोर वैश्विक रुख से वायदा बाजार में कच्चे तेल भाव में नरमी

    वैश्विक बाजारों में कमजोर रुख के बीच सटोरियों के सौदा घटाये जाने से वायदा बाजार में आज कच्चे तेल का भाव 13 रुपये घटकर 4,558 रुपये प्रति बैरल रहा. मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में सितंबर महीने की डिलीवरी के लिये कच्चा तेल का मूल्य 13 रुपये या 0.28 प्रतिशत टूटकर 4,558 रुपये प्रति बैरल रहा.

  • कच्चा तेल की अधिक कीमतें आर्थिक वृद्धि के लिए मुख्य जोखिम: मूडीज

    कच्चा तेल की अधिक कीमतें आर्थिक वृद्धि के लिए मुख्य जोखिम: मूडीज

    क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज ने कहा कि कच्चे तेल की ऊंची कीमतें देश की आर्थिक वृद्धि के लिए मुख्य जोखिम हैं. हालांकि पेट्रोल एवं डीजल पर दी जाने वाली छूट में सुधार से जोखिम कम हुआ है. मूडीज और उसकी सहयोगी इकाई इक्रा द्वारा किये गये सर्वेक्षण में निवेशकों ने कच्चे तेल की अधिक कीमतों को आर्थिक वृद्धि के लिए मुख्य जोखिम बताया और कहा कि 3.3 प्रतिशत राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को प्राप्त करना मुश्किल है. 

  • कमजोर वैश्विक रुख से कच्चा तेल वायदा भाव 2.07% गिरा

    कमजोर वैश्विक रुख से कच्चा तेल वायदा भाव 2.07% गिरा

    एशियाई बाजारों में कमजोर रुख के बीच सटोरियों के सौदे घटाने से सोमवार को कच्चा तेल का वायदा भाव 2 प्रतिशत गिरकर 4,349 रुपये प्रति बैरल रह गया. 

'Crude Oil' - 17 News Result(s)

  • मई में 16 फीसदी टूटा कच्चा तेल, सस्ते होंगे पेट्रोल, डीजल

    मई में 16 फीसदी टूटा कच्चा तेल, सस्ते होंगे पेट्रोल, डीजल

    अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बीते दिनों घटने के कारण ही घरेलू तेल विपणन कंपनियों ने शनिवार को लगातार तीसरे दिन पेट्रोल और डीजल के दाम में कटौती जारी रखी. उर्जा विशेषज्ञ नरेंद्र तनेजा ने कहा कि निस्संदेह यह देश की नई सरकार के लिए अच्छी खबर है कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव में भारी गिरावट आई.

  • पेट्रोल, डीजल के दाम में गिरावट का सिलसिला थमा, कच्चे तेल में भी नरमी

    पेट्रोल, डीजल के दाम में गिरावट का सिलसिला थमा, कच्चे तेल में भी नरमी

    पेट्रोल और डीजल के दाम में पिछले छह दिन से जारी गिरावट का सिलिसिला बुधवार को थम गया. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत देश के विभिन्न महानगरों में तेल के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ. उधर, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में भी नरमी दर्ज की गई.

  • कच्चा तेल, रुपया, कंपनियों के तिमाही नतीजे तय करेंगे बाजार की चाल

    कच्चा तेल, रुपया, कंपनियों के तिमाही नतीजे तय करेंगे बाजार की चाल

    इस सप्ताह शेयर बाजार में सिर्फ तीन दिन कारोबार होगा. सोमवार को मुंबई में लोकसभा चुनाव के लिये मतदान के कारण तथा बुधवार को महाराष्ट्र दिवस को लेकर शेयर बाजार में कारोबार नहीं होगा.

  • पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर, कच्चे तेल में तेजी अभी भी जारी

    पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर, कच्चे तेल में तेजी अभी भी जारी

    अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में इजाफा होने से आने वाले दिनों में भारत में पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने की संभावना बनी हुई है. अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में आई तेजी से घरेलू वायदा बाजार एमसीएक्स पर भी कच्चे तेल के सौदों में उछाल दर्ज किया गया है.

  • कच्चे तेल में तेजी से फिर बढ़ेंगे पेट्रोल, डीजल के दाम

    कच्चे तेल में तेजी से फिर बढ़ेंगे पेट्रोल, डीजल के दाम

    ब्रेंट क्रूड का भाव 70 डॉलर प्रति बैरल से ऊपर चला गया है, जो नवंबर के बाद का उच्चतम स्तर है. ब्रेंट क्रूड के दाम में इस साल अबतक 34 फीसदी का इजाफा हुआ है. पिछले दो सप्ताह में ब्रेंट क्रूड के दाम में 3.65 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है, जिसका असर आने वाले दिनों में देखा जा सकता है. दरअसल, भारत अपनी तेल की खपत की 80 फीसदी जरूरतों की पूर्ति आयात से करता है, इसलिए पेट्रोल और डीजल की कीमतों का निर्धारण अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में चढ़ाव-उतार के अनुसार तय होता है.

  • कच्चे तेल की कीमत, रुपये की चाल से तय होगी शेयर बाजार की दिशा

    कच्चे तेल की कीमत, रुपये की चाल से तय होगी शेयर बाजार की दिशा

    विश्लेषकों का मानना है कि अमेरिका और चीन के बीच व्यापार वार्ता पर भी निवेशकों की नजर रहेगी. एपिक रिसर्च के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) मुस्तफा नदीम ने कहा, 'इस सप्ताह घरेलू स्तर पर कोई आंकड़ा नहीं आने आएगा. ऐसे में निवेशकों की निगाह कच्चे तेल की कीमतों, डॉलर-रुपये के उतार-चढ़ाव और वैश्विक बाजारों की चाल पर रहेगी.'

  • कमजोर वैश्विक रुख से कच्चा तेल वायदा भाव 0.88% फिसला

    कमजोर वैश्विक रुख से कच्चा तेल वायदा भाव 0.88% फिसला

    इसमें 7,951 लॉट का कारोबार हुआ. बाजार जानकारों ने कहा कि एशियाई बाजारों में कमजोर रुख के साथ कारोबारियों के सौदे कम करने से वायदा कारोबार में कच्चे तेल में गिरावट रही. इस बीच, वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट कच्चा तेल 0.63 प्रतिशत गिरकर 53.70 डॉलर पर जबकि ब्रेंट कच्चा तेल 0.80 प्रतिशत गिरकर 62.24 डॉलर प्रति बैरल पर रहा.

  • इस सप्ताह 11 फीसदी लुढ़का कच्चा तेल, घटेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम

    इस सप्ताह 11 फीसदी लुढ़का कच्चा तेल, घटेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम

    अंतरराष्ट्रीय बाजार में इस सप्ताह कच्चे तेल के दाम में आई भारी गिरावट से आगे भारतीय उपभोक्ताओं को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में और राहत मिल सकती है. ब्रेंट क्रूड के भाव में इस सप्ताह करीब 11 फीसदी की गिरावट आई है.

  • रुपये ने डॉलर के खिलाफ लगाई पांच वर्षो की सबसे ऊंची कूद, 112 पैसे सुधार

    रुपये ने डॉलर के खिलाफ लगाई पांच वर्षो की सबसे ऊंची कूद, 112 पैसे सुधार

    रुपये की विनिमय दर में पांच साल से भी अधिक समय में यह एक दिन का सबसे बड़ा सुधार है. निर्यातकों और बैंकों द्वारा डॉलर की सतत बिकवाली के साथ साथ अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नीतिगत बैठक से पहले वैश्विक स्तर पर प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजोर होने से रुपये को बल मिला.

  • अप्रैल के बाद कच्चा तेल पहली बार 70 डॉलर से नीचे

    अप्रैल के बाद कच्चा तेल पहली बार 70 डॉलर से नीचे

    यह अप्रैल 2018 के बाद पहली बार 70 डॉलर प्रति बैरल के स्तर से नीचे आया है. लंदन में सुबह के सौदों में ब्रेंट क्रूड (उत्तरी सागर) जनवरी डिलीवरी 96 सेंट गिरकर 69.69 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया. 

  • मुंबई में डीजल पहली बार 80 के पार, नवंबर 2014 के बाद कच्चे तेल की कीमत सबसे ज्यादा

    मुंबई में डीजल पहली बार 80 के पार, नवंबर 2014 के बाद कच्चे तेल की कीमत सबसे ज्यादा

    पेट्रोल-डीजल की कीमतें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. आज यानी बुधवार को एक बार फिर से तेल के दाम बढ़े. दिल्ली में जहां पेट्रोल 15 पैसे और डीजल 22 पैसे महंगा हुआ. दिल्ली में पेट्रोल 84 रुपये और डीज़ल 75.45 रुपये प्रति लीटर है. वहीं मुंबई में डीजल पहली बार की 21 पैसे की बढ़ोतरी के साथ 80 पार पहुंच गया. वहीं पेट्रोल 91.34 रुपये प्रति लीटर बिक रहा. अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में आई तेजी की वजह से पेट्रोल और डीजल के दाम में इजाफा हो रहा है. 

  • रुपये पर दबाव, कच्चे तेल में उछाल के बीच शेयर बाजारों में लगातार पांचवे दिन गिरावट

    रुपये पर दबाव, कच्चे तेल में उछाल के बीच शेयर बाजारों में लगातार पांचवे दिन गिरावट

    कच्चे तेल के बढ़ते दाम और गिरते रुपये की चिंता में मंगलवार को लगातार पांचवें कार्यदिवस को शेयर बाजारों में गिरावट का रुख रहा. बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स आज 155 अंक गिरकर 38,157.92 अंक पर बंद हुआ. इस दौरान टिकाऊ उपभोक्ता सामानों, वित्त एवं बैंकिंग क्षेत्र के शेयरों में भारी बिकवाली का जोर रहा. पिछले तीन माह के दौरान शेयर बाजार में लगातार गिरावट का सबसे लंबा दौर है. व्यापक आधार वाले निफ्टी में भी लगातार दूसरे दिन गिरावट का रुख रहा. निफ्टी 62.05 अंक यानी 0.54 प्रतिशत गिरकर 11,520.30 अंक पर बंद हुआ. कच्चे तेल के दाम बढ़ने और रुपये के गिरने से निवेशकों की चिंता बढ़ गई.

  • कमजोर वैश्विक रुख से वायदा बाजार में कच्चे तेल भाव में नरमी

    कमजोर वैश्विक रुख से वायदा बाजार में कच्चे तेल भाव में नरमी

    वैश्विक बाजारों में कमजोर रुख के बीच सटोरियों के सौदा घटाये जाने से वायदा बाजार में आज कच्चे तेल का भाव 13 रुपये घटकर 4,558 रुपये प्रति बैरल रहा. मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में सितंबर महीने की डिलीवरी के लिये कच्चा तेल का मूल्य 13 रुपये या 0.28 प्रतिशत टूटकर 4,558 रुपये प्रति बैरल रहा.

  • कच्चा तेल की अधिक कीमतें आर्थिक वृद्धि के लिए मुख्य जोखिम: मूडीज

    कच्चा तेल की अधिक कीमतें आर्थिक वृद्धि के लिए मुख्य जोखिम: मूडीज

    क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज ने कहा कि कच्चे तेल की ऊंची कीमतें देश की आर्थिक वृद्धि के लिए मुख्य जोखिम हैं. हालांकि पेट्रोल एवं डीजल पर दी जाने वाली छूट में सुधार से जोखिम कम हुआ है. मूडीज और उसकी सहयोगी इकाई इक्रा द्वारा किये गये सर्वेक्षण में निवेशकों ने कच्चे तेल की अधिक कीमतों को आर्थिक वृद्धि के लिए मुख्य जोखिम बताया और कहा कि 3.3 प्रतिशत राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को प्राप्त करना मुश्किल है. 

  • कमजोर वैश्विक रुख से कच्चा तेल वायदा भाव 2.07% गिरा

    कमजोर वैश्विक रुख से कच्चा तेल वायदा भाव 2.07% गिरा

    एशियाई बाजारों में कमजोर रुख के बीच सटोरियों के सौदे घटाने से सोमवार को कच्चा तेल का वायदा भाव 2 प्रतिशत गिरकर 4,349 रुपये प्रति बैरल रह गया. 

Your search did not match any documents
A few suggestions
  • Make sure all words are spelled correctly
  • Try different keywords
  • Try more general keywords
Check the NDTV Archives:http://archives.ndtv.com

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................