एसबीआई ने एमसीएलआर दर 0.2% बढ़ाई, आवास और वाहन ऋण महंगा

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने विभिन्न परिपक्वता अवधि वाले कर्ज पर कोष की सीमांत लागत आधारित दर (एससीएलआर) में 0.2 प्रतिशत तक की वृद्धि की है.

एसबीआई ने एमसीएलआर दर 0.2% बढ़ाई,  आवास और वाहन ऋण महंगा

प्रतीकात्मक फोटो

हाइलाइट्स

  • एसबीआई ने एमसीएलआर दर 0.2% बढ़ाई
  • आवास और वाहन ऋण महंगे होंगे
  • नयी दरें शनिवार से प्रभावी होंगी
नई दिल्ली:

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने विभिन्न परिपक्वता अवधि वाले कर्ज पर कोष की सीमांत लागत आधारित दर (एससीएलआर) में 0.2 प्रतिशत तक की वृद्धि की है. बैंक के इस कदम से आवास, वाहन और अन्य ऋण महंगे होंगे. नयी दरें शनिवार से प्रभावी होंगी. बैंक की वेबसाइट के अनुसार, एसबीआई ने तीन वर्ष तक की परिपक्वता अवधि वाले ऋणों पर ब्याज में 20 आधार अंक यानी 0.2 प्रतिशत की वृद्धि की है. 

यह भी पढ़ें: नोटबंदी के 21 महीने बाद भी स्‍टेट बैंक के 18,135 ATM नहीं हुए नए नोटों के अनुकूल

बैंक ने एक दिन और एक महीने की अवधि के लिए एमसीएलआर को 7.9 प्रतिशत से बढ़ाकर 8.1 प्रतिशत किया है. एक वर्ष की परिपक्वता अवधि के लिये एमसीएलआर को 8.25 से 8.45 प्रतिशत किया गया है. इसी प्रकार, तीन वर्ष की अवधि के लिये एमसीएलआर को 8.45 प्रतिशत से बढ़ाकर 8.65 प्रतिशत किया गया है. 

VIDEO : SBI की फिक्स डिपॉजिट दरों में बदलाव

भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से नीतिगत दर (रेपो दर) में 0.25 प्रतिशत की वृद्धि करके 6.5 प्रतिशत करने के बाद एसबीआई ने एमसीएलार में वृद्धि की है.