पंजाब नेशनल बैंक 11 एनपीए खाते बेचेगा, 1,234 करोड़ रुपये की वसूली का प्रयास 

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने 1,234 करोड़ रुपये से अधिक की वसूली के लिए 11 गैर- निष्पादित परिसंपत्तियों (एनपीए) वाले खातों को बिक्री के लिए रखा है.

पंजाब नेशनल बैंक 11 एनपीए खाते बेचेगा, 1,234 करोड़ रुपये की वसूली का प्रयास 

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने 1,234 करोड़ रुपये से अधिक की वसूली के लिए 11 गैर- निष्पादित परिसंपत्तियों (एनपीए) वाले खातों को बिक्री के लिए रखा है. बैंक ने 11 एनपीए खातों के लिए इच्छुक बैंक/संपत्ति पुनर्गठन कंपनियां/गैर- बैंकिंग वित्तीय कंपनियां या वित्तीय संस्थान से बोलियां मांगी हैं. इन खातों में वीजा स्टील (441.83 करोड़ रुपये का बकाया) इंडबारत एनर्जी उत्कल (414.23 करोड़) एस्टर प्राइवेट लिमिटेड (113.57 करोड़ रुपये) और ओम शिव एस्टेट्स (100.16 करोड़ रुपये) के पास फंसे ऋण शामिल हैं.

पीएनबी ने विज्ञापन में कहा कि यह बिक्री प्रक्रिया पूरी तरह से नकदी लेनदेन पर आधारित होगी. बैंक ने संभावित बोलीदाताओं से कहा कि वह बोली प्रक्रिया में तेजी रखें. पीएनबी ने कहा कि वह दस्तावेजों की प्रतियों को एक जगह पर सत्यापन के लिए लाने की हर संभव करेगा. संभावित बोलीदाता 12 सितंबर तक अपने रुचि जता सकते हैं.

बोली जमा करने की अंतिम तिथि 20 सितंबर 2019 है. बोली 21 सितंबर को खोली जाएगी. सरकार के 10 सरकारी बैंकों को मिलाकर चार बड़े बैंक बनाने की घोषणा की है. इसकी के तहत पंजाब नेशनल बैंक के साथ ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का विलय होगा. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)