Profit
होम | प्रॉपर्टी

प्रॉपर्टी

  • आम्रपाली ग्रुप को SC से बड़ा झटका, 16 संपत्तियों की नीलामी का दिया आदेश
    नीलामी एनबीसीसी की देख रेख में होगी. सभी निदेशकों और उनके परिवार की चल-अचल संपत्ति का फ़ोरेंसिक ऑडिट होगा. आम्रपाली ग्रुप के मालिक से कोर्ट ने ये भी पूछा कि 2014 के चुनावी हलफ़नामे में 867 करोड़ की संपत्ति 2018 में 67 करोड़ कैसे हो गई?
  • भारत 60 अरब डॉलर से 100 हवाईअड्डों का निर्माण करेगा : प्रभु
    अगले 10 से 15 सालों में देश के भीतर 100 हवाईअड्डों का निर्माण किए जाने की योजना है. नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने मंगलवार को कहा कि इस पर करीब 60 अरब डॉलर (करीब 4.2 लाख करोड़ रुपये) की लागत आएगी.
  • सुपरटेक 800 करोड़ रुपये करेगा निवेश, इस साल ग्राहकों को 10,000 फ्लैट देने का लक्ष्य
    रीयल्टी कंपनी सुपरटेक विभिन्न परियोजनाओं के निर्माण में करीब 800 करोड़ रुपये का निवेश करेगी ताकि चालू वित्त वर्ष के दौरान कंपनी के ग्राहकों को 10,000 फ्लैटों की डिलीवरी का लक्ष्य हासिल किया जा सके.
  • अब आपके स्‍मार्टफोन या रिमोट से कंट्रोल होगा हाईटेक टी-होम्स, जानें क्‍या है खूबी
    टी होम्स का उद्देश्य आवासीय जीवन को टेक्नोलॉजिकल जीवन में परिवर्तित करना है. ये 3 या 4 बीएचके होम्स एक टी-होम्स एप द्वारा आपके स्मार्टफोन या रिमोट से कंट्रोल किए जा सकेंगे.
  • अब इस एप से स्‍टूडेंट्स को दिल्ली-एनसीआर में आसानी से मिलेगा घर
    यूनिवर्सिटी, कॉलेजों में हॉस्टल की सीमित सुविधाओं के कारण यूनिवर्सिटी, कॉलेजों के आसपास बजट में आने वाले आवास की भारी मांग रहती है.
  • सस्ते मकानों पर जोर दिये जाने से घर खरीदारों का बढ़ा आकर्षण: रिपोर्ट
    सरकार की तरफ से सस्ते मकानों पर जोर दिये जाने से रीयल एस्टेट क्षेत्र फिर से घर खरीदारों को आकर्षित करने लगा है. वित्तीय सेवाएं देने वाली कंपनी एचडीएफसी लिमिटेड ने एक रिपोर्ट में यह बात कही. कंपनी ने कहा कि विभिन्न मुहिमों के जरिये सरकार द्वारा किफायती आवास पर जोर देने से वह उत्साहित है.
  • एनसीआर में रियल एस्टेट बाजार में 90 फीसदी तेजी : नाइट फ्रैंक
    साल 2018 की पहली छमाही में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में रियल एस्टेट बाजार में 90 फीसदी की तेजी दर्ज की गई है, जिसमें 47 फीसदी हिस्सेदारी के साथ गुरुग्राम सबसे आगे है. नाइट फ्रैंक इंडिया द्वारा बुधवार को जारी प्रमुख अर्ध वार्षिक रिपोर्ट 'इंडिया रियल एस्टेट' के नौवां संस्करण में यह जानकारी दी गई. 
  • जेपी समूह की कंपनी बेचने से नहीं होगा किसी का भला: उच्चतम न्यायालय
    उच्चतम न्यायालय ने कहा कि जेपी समूह की कंपनी जेपी इंफ्राटेक लिमिटेड (जेआईएल) को बेचे जाने से घर खरीदारों , वित्तीय संस्थानों या प्रवर्तकों में से किसी का भी हित नहीं सधेगा. शीर्ष न्यायालय ने जेआईएल के घर खरीदारों , जेआईएल की होल्डिंग कंपनी जयप्रकाश एसोसिएट्स लिमिटेड , बैंकों एवं वित्तीय संस्थानों तथा दिवाला शोधन पेशेवरों समेत विभिन्न हितधारकों द्वारा निवेदित अंतरिम राहत पर भी अपना फैसला सुरक्षित रख लिया. 
  • रीयल एस्टेट कंपनियों ने इस्पात की बढ़ती कीमतों पर चिंता जताई, प्रधानमंत्री को लिखा पत्र
    रीयल एस्टेट कंपनियों के संगठन क्रेडाई ने पिछले दो साल में इस्पात की तेजी से बढ़ी कीमतों को लेकर चिंता व्यक्त करते हुये प्रधानमंत्री कार्यालय को पत्र लिखकर मामले में दखल देने का अनुरोध किया है. उन्होंने कहा है कि इस्पात के दाम बढ़ने से निर्माण का खर्च काफी बढ़ गया है इसलिये सरकार को इसके दाम पर अंकुश रखने का उपाय करना चाहिये. 
  • पश्चिमी एक्सप्रेस राजमार्ग के किनारे बनी 5100 आवासीय इकाइयों को नहीं मिले ग्राहक
    मुंबई के पश्चिमी एक्सप्रेस राजमार्ग के इर्द-गिर्द 10 हजार करोड़ रुपये से अधिक लागत की 5,100 आवासीय इकाइयां ग्राहक नहीं मिलने से बिना बिक्री के पड़ी हैं. इन इकाइयों को पिछले 12 महीने के दौरान शुरू किया गया. 
  • समाधान योजना की मंजूरी के लिए जेपी ने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया
    रीयल्टी कंपनी जयप्रकाश एसोसिएट्स लिमिटेड ( जेएएल ) ने पुनरुद्धार के लिए उसकी समाधान योजना को मंजूरी हेतु आज उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाया. शीर्ष अदालत परेशान मकान क्रेताओं की याचिकाओं की सुनवाई कर रही है. न्यायालय ने इस कंपनी से कहा था कि वह उन क्रेताओं को उनका पैसा लौटाने के लिए राशि जमा कराए जो अब फ्लैट के कब्जे के बजाय अपना पैसा वापस लेना चाहते हैं. 
  • चीन की कंपनियों के लिए कार्यालय खोलने को पसंदीदा स्थान है भारत का यह क्षेत्र
    चीन की कंपनियों के लिए कार्यालय खोलने को दिल्ली-एनसीआर वैश्विक स्तर पर सबसे पसंदीदा बाजार है. एक रिपोर्ट में कहा गया है कि 2015 से 2017 के दौरान चीन की कंपनियों ने दिल्ली में 5,16,667 वर्ग फुट जगह पट्टे पर ली. संपत्ति सलाहकार जेएलएल की अध्ययन रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन की कंपनियों के लिए दूसरा पसंदीदा भारतीय शहर मुंबई है. 2015-17 के दौरान चीनी कंपनियों ने मुंबई में अपने कार्यालयों के लिए 85,537 वर्ग फुट जगह पट्टे पर ली. 
  • आम्रपाली बिल्डर्स को फिर सुप्रीम कोर्ट से सुननी पड़ी खरी-खरी
    आम्रपाली बिल्डर्स को एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट में खरी खरी सुननी पड़ी. एक मामले की सुनवाई करते हुए आम्रपाली बिल्डर्स से सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बताये कि आपका प्रोजेक्ट सफ़ायर 1,2 और लेजर पार्क को कौन सहयोगी कम्पनी पूरा करेगी? आम्रपाली ने कहा कि गैलेक्सी को डवलपर के रूप में प्रोजेक्ट्स पूरा करने को तैयार है. आम्रपाली ने कहा कि गैलेक्सी को डवलपर के रूप में प्रोजेक्ट्स पूरा करने को तैयार है.
  • जनवरी-मार्च में औसतन सात प्रतिशत गिरे घरों के दाम
    देश के नौ प्रमुख शहरों में जनवरी-मार्च तिमाही में इससे पिछली तिमाही की तुलना में मकान औसतन सात प्रतिशत सस्ते हुए हैं. रीयल एस्टेट शोध एवं विश्लेषण कंपनी प्रॉपइक्विटी के अनुसार घरों की मांग कम रहने की वजह से डेवलपर्स दाम घटा रहे हैं. मार्च तिमाही के दौरान बिना बिके फ्लैटों की संख्या दो प्रतिशत घटकर 5,95,074 इकाई पर आ गई, जो इससे पिछली तिमाही में 6,08,949 इकाई थी.
  • बिकने की कगार पर जेपी इंफ्रा., एक प्राइवेट कंपनी लगाई 7350 करोड़ रुपये की कीमत
    एक समय कंस्ट्रक्शन इंडस्ट्री की नामी कंपनी रही जेपी इंफ्रा अब बिकने की कगार पर पहुंच गई है. 

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................