NTPC 2022 तक सौर ऊर्जा के क्षेत्र में 50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

सार्वजनिक क्षेत्र की बिजली कंपनी एनटीपीसी आने वाले समय में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में  50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी.

NTPC 2022 तक सौर ऊर्जा के क्षेत्र में  50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

NTPC 2022 तक 50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

नई दिल्ली:

सार्वजनिक क्षेत्र की बिजली कंपनी एनटीपीसी आने वाले समय में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में  50,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. कंपनी के सूत्र ने बताया कि कंपनी 10 गीगावॉट तक सौर बिजली उत्पादन करना चाहती है. एनटीपीसी यह निवेश मुख्य रूप से ग्रीन बांड के जरिये करेगी. वर्तमान में एनटीपीसी की स्थापित अक्षय ऊर्जा क्षमता 920 मेगावॉट की है. इसमें मुख्य रूप से सौर बिजली क्षमता शामिल है. एनटीपीसी ने 2032 तक 130 गीगावॉट की कंपनी बनने के लिए दीर्घावधि की योजना बनाई है. इसमें से 30 प्रतिशत अक्षय ऊर्जा क्षमता होगी.

सूत्र ने कहा कि कंपनी इस वित्त वर्ष के अंत तक 2,300 मेगावॉट सौर ऊर्जा के लिए निविदा निकालने का काम पूरा कर लेगी. उसके बाद कंपनी की योजना 2020-21 और 2021-22 में चार-चार गीगावॉट की क्षमता और जोड़ने की है. सूत्र ने कहा, ‘‘कंपनी बाजार से किसी भी तरह का कर्ज जुटाने को तैयार है, बशर्ते यह सस्ती होनी चाहिए. हालांकि, मुख्य रूप से कंपनी ग्रीन बांड के जरिये धन जुटाएगी. ये बांड शुद्ध रूप से स्वच्छ ऊर्जा परियोजनाओं के लिए पेश किए जाएंगे. कंपनी का इरादा घरेलू ग्रीन बांड के जरिये धन जुटाने का है.

Newsbeep

एनटीपीसी की 10 गीगावॉट सौर ऊर्जा क्षमता जोड़ने की योजना इस दृष्टि से महत्वपूर्ण है कि भारत ने 2022 तक 175 गीगावॉट स्वच्छ ऊर्जा क्षमता का लक्ष्य रखा है. सूत्र ने कहा कि कंपनी कुछ सौर ऊर्जा परियोजनाएं उस योजना के तहत भी स्थापित करेगी जिनमें उसे परियोजनाओं को आर्थिक रूप से व्यावहारिक बनाने के लिए वित्तपोषण मिलेगा. इससे वह दरों को तीन रुपये प्रति यूनिट से नीचे रख पाएगी. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)