Profit

जी-20 के वित्तमंत्रियों की बैठक में 'वैश्विक मंदी' और आईटी कंपनियों के नए टैक्स सिस्टम पर चर्चा

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, बयान में कहा गया कि वैश्विक आर्थिक विकास में स्थिरता देखी जा रही है और आमतौर पर माना जाता है कि इस साल के आखिर में व 2020 में विकास की दर मंद रहने वाली है. 

 Share
EMAIL
PRINT
COMMENTS
जी-20 के वित्तमंत्रियों की बैठक में 'वैश्विक मंदी' और आईटी कंपनियों के नए टैक्स सिस्टम पर चर्चा
नई दिल्ली: 

जी-20 में शामिल देशों के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंकों के गवर्नरों ने रविवार को जापान के फुकुओका शहर में व्यापार और डिजिटल अर्थव्यवस्था पर आयोजित दो दिवसीय सम्मेलन के बाद एक संयुक्त बयान जारी किया. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, बयान में कहा गया कि वैश्विक आर्थिक विकास में स्थिरता देखी जा रही है और आमतौर पर माना जाता है कि इस साल के आखिर में व 2020 में विकास की दर मंद रहने वाली है. 

बयान में कहा गया कि खासतौर से व्यापार और भूराजनीतिक तनाव बढ़ गया है. मंत्रियों ने संयुक्त बयान में कहा, "हम इन जोखिमों के समाधान में जुटे रहेंगे और आगे की कार्रवाई करने को तैयार हैं." वित्तीय मामलों के प्रमुखों ने वैश्विक आईटी कंपनियों के लिए नई कर व्यवस्था पर भी विचार-विमर्श किया जो सीमा पार डाटा हस्तांतरण से काफी लाभ कमाती हैं. उन्होंने अर्थव्यवस्था में बुजुर्ग आबादी के प्रभाव पर भी विचार-विमर्श किया. उन्होंने इंटरनेट कंपनियों पर वैश्विक कॉरपोरेट टैक्स में सुधार को लेकर भी सहमति जताई. 

उन्होंने कहा, "2020 तक अंतिम रिपोर्ट के साथ हम सर्वसम्मति से समाधान के लिए दोबारा दोगुना प्रयास करेंगे." ओसाका में 28-29 जून को होने वाले जी-20 शिखर सम्मेलन में वित्तमंत्रियों की सहमति से उनके नेताओं को अवगत कराया जाएगा. 

इनपुट : आईएनएस

NDTV Beeps - your daily newsletter

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

Top