सेंसेक्स, निफ्टी का रिकॉर्ड बनाने का सिलसिला जारी, अब निगाहें रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा पर

कारोबारियों ने कहा कि बाजार भागीदारों ने एशियाई बाजारों के कमजोर रुख को नजरअंदाज किया और रिजर्व बैंक के शुक्रवार को आने वाले मौद्रिक समीक्षा बैठक (Reserve Bank's monetary review) के नतीजों से पहले लिवाली की.

सेंसेक्स, निफ्टी का रिकॉर्ड बनाने का सिलसिला जारी, अब निगाहें रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा पर

प्रतीकात्मक तस्वीर

मुंबई:

शेयर बाजारों (Share Market) में तेजी का सिलसिला गुरुवार को लगातार चौथे कारोबारी सत्र में भी जारी रहा और सेंसेक्स (Sensex) 359 अंक और चढ़कर अपने सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गया. उत्साहवर्धक तिमाही नतीजों के बीच एफएमसीजी और बैंकिंग शेयरों में बढ़त से बाजार धारणा मजबूत हुई. कारोबारियों ने कहा कि बाजार भागीदारों ने एशियाई बाजारों के कमजोर रुख को नजरअंदाज किया और रिजर्व बैंक के शुक्रवार को आने वाले मौद्रिक समीक्षा बैठक (Reserve Bank's monetary review) के नतीजों से पहले लिवाली की. बीएसई (BSE) का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान 50,687.51 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर तक गया. बाद में सेंसेक्स 358.54 अंक या 0.71 प्रतिशत की बढ़त के साथ 50,614.29 अंक के अपने नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ.

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) का निफ्टी (Nifty) 105.71 अंक या 0.71 प्रतिशत की बढ़त के साथ 14,895.65 अंक पर बंद हुआ. यह इसका नया रिकॉर्ड है. इससे पहले दिन में कारोबार के दौरान निफ्टी ने 14,913.70 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर को छुआ. सेंसेक्स की कंपनियों में आईटीसी का शेयर सबसे अधिक 6.11 प्रतिशत चढ़ गया.

एसबीआई, बजाज फाइनेंस, ओएनजीसी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, कोटक बैंक, बजाज फिनसर्व, एनटीपीसी तथा अल्ट्राटेक सीमेंट के शेयर भी लाभ में रहे. एसबीआई का शेयर 5.73 प्रतिशत की बढ़त में रहा. देश के सबसे बड़े बैंक ने दिसंबर तिमाही में 5,196.22 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया है. हालांकि, यह पिछले साल की समान अवधि से सात प्रतिशत कम है, लेकिन बाजार के अनुमान से अधिक है.

एशियन पेंट्स, इंडसइंड बैंक, भारती एयरटेल, टेक महिंद्रा, टाइटन और इन्फोसिस के शेयर भी 2.08 प्रतिशत तक टूट गए. बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप में 1.45 प्रतिशत तक का लाभ रहा. अन्य एशियाई बाजारों में तोक्यो, हांगकांग, सियोल और शंघाई में गिरावट आई. शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार बढ़त में थे.

इस बीच, वैश्विक बेंचमार्क ब्रेंट कच्चा तेल वायदा 0.09 प्रतिशत की बढ़त के साथ 58.74 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 72.96 प्रति डॉलर पर स्थिर बंद हुआ. शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को शुद्ध रूप से 2,520.92 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)