Profit

RTI में खुलासा, जीएसटी के विज्ञापन पर सरकार ने खर्च किये 132 करोड़ रुपये से ज्यादा

वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के विज्ञापन पर सरकार ने 132.38 करोड़ रुपये खर्च किए हैं.

 Share
EMAIL
PRINT
COMMENTS
RTI में खुलासा, जीएसटी के विज्ञापन पर सरकार ने खर्च किये 132 करोड़ रुपये से ज्यादा

जीएसटी के विज्ञापन पर सरकार ने 132.38 करोड़ रुपये खर्च किए हैं.


नई दिल्ली: 

वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के विज्ञापन पर सरकार ने 132.38 करोड़ रुपये खर्च किए हैं. सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के तहत काम करने वाली एक एजेंसी ने एक आरटीआई के जवाब में यह जानकारी दी है. मंत्रालय के तहत काम करने वाले ब्यूरो ऑफ आउटरीच एंड कम्युनिकेशंस से मंत्रालय ने नौ अगस्त 2018 को आरटीआई के जवाब में मिली जानकारी के अनुसार सरकार ने पत्र पत्रिकाओं में जीएसटी के विज्ञापनों पर 1,26,93,97,121 रुपये खर्च किए हैं.

इसी मद में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर खर्च शून्य बताया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार खुले में इस्तहार आद के माध्यम से जीएसटी के प्रचार पर 5,44,35,502 रुपये खर्च किए हैं. उल्लेखनीय है कि जीएसटी को एक जुलाई 2017 को लागू किया गया था. जीएसटी को जहां सरकार कर सुधार की दिशा में मील का पत्थर बताती रही है. तो वहीं विपक्ष लगातार इस मुद्दे पर हमलावर रहा है और इसे खासकर छोटे दुकानदारों की 'कमर तोड़ना वाला फैसला' बताता रहा है.  



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV Beeps - your daily newsletter

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

Top