महिंद्रा एंड महिंद्रा को अंतिम तिमाही में उत्पादन-बिक्री में कमी का अंदेशा

महिंद्रा (M&M) ने शेयर बाजार को बताया, ‘‘इलेक्ट्रॉनिक नियंत्रण इकाई (ECU) में इस्तेमाल किए जाने वाले माइक्रो प्रोसेसर (अर्धचालक) की वैश्विक आपूर्ति में कमी के चलते ऑटोमोटिव क्षेत्र में कंपनी का कामकाज प्रभावित हो सकता है.’’

महिंद्रा एंड महिंद्रा को अंतिम तिमाही में उत्पादन-बिक्री में कमी का अंदेशा

माइक्रो प्रोसेसर की आपूर्ति में कमी हुई है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

महिंद्रा एंड महिंद्रा (M&M) को अंदेशा है कि वैश्विक स्तर पर माइक्रो प्रोसेसर की आपूर्ति में कमी के चलते चालू वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही में उसके ऑटोमोटिव डिवीजन और उसके पूर्णस्वामित्व वाली सहायक कंपनी के उत्पादन और बिक्री में कमी आ सकती है. एमएंडएम ने कहा कि वह अपने ऑटो कलपुर्जों की आपूर्ति करने वाले बॉश के साथ संपर्क में है और उत्पादन में किसी संभावित कमी का आकलन कर रही है.

महिंद्रा ने शेयर बाजार को बताया, ‘‘इलेक्ट्रॉनिक नियंत्रण इकाई (ECU) में इस्तेमाल किए जाने वाले माइक्रो प्रोसेसर (अर्धचालक) की वैश्विक आपूर्ति में कमी के चलते ऑटोमोटिव क्षेत्र में कंपनी का कामकाज प्रभावित हो सकता है.''

महिंद्रा ने कहा कि इन परिस्थितियों में उसका अनुमान है कि वित्त वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही में उसके ऑटोमोटिव डिवीजन और उसकी पूर्णस्वामित्व वाली सहायक कंपनी महिंद्रा व्हीकल मैन्युफैक्चर्रस (एमवीएमएल) के उत्पादन और बिक्री में कमी आ सकती है.

एमएंडएम ने कहा, ‘‘कंपनी बॉश के साथ लगातार संपर्क में है और आपूर्ति में व्यवधान के कारण वित्त वर्ष 2020-2021 की अंतिम तिमाही में उत्पादन में किसी कमी का आकलन कर रही है और उसे कम करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं.''



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)