ट्रेन होगी लेट तो यात्रियों को IRCTC उपलब्ध कराएगा मुफ्त खाना...

रेलवे अपनी संपत्तियों के नियोजित रखरखाव कार्य के कारण रविवार को पांच-छह घंटे ट्रेन के विलंब होने पर ट्रेन में आरक्षित टिकट पर यात्रा कर रहे यात्रियों को मुफ्त में भोजन व जलपान प्रदान करेगी.

ट्रेन होगी लेट तो यात्रियों को IRCTC उपलब्ध कराएगा मुफ्त खाना...

रेलवे उपलब्ध कराएगी मुफ्त खाना.

हाइलाइट्स

  • रेलवे कराएगा रिपेयर वर्क
  • इस दौरान कुछ ट्रेनों के लेट होने की संभावना
  • करीब 4-5 घंटे की हो सकती है देरी.
नई दिल्ली: रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि पटरियों के रखरखाव कार्य के कारण अगर रविवार को कोई रेलगाड़ी पांच-छह घंटे विलंब से चलती है तो भारतीय रेल ट्रेन में मौजूद यात्रियों को मुफ्त में भोजन देगी. रेलमंत्री ने मीडिया से बातचीत में यहां कहा, "रेलवे अपनी संपत्तियों के नियोजित रखरखाव कार्य के कारण रविवार को पांच-छह घंटे ट्रेन के विलंब होने पर ट्रेन में आरक्षित टिकट पर यात्रा कर रहे यात्रियों को मुफ्त में भोजन व जलपान प्रदान करेगी."

पढ़ें- रेलवे में सफर के दौरान खाने-पीने का क्या है दाम, देखें रेट लिस्ट

भोजन और जलपान भारतीय रेल खानपान और पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) की ओर से दिए जाएंगे. गोयल ने कहा, "हम अनारक्षित टिकट पर यात्रा कर रहे यात्रियों को भी मुफ्त भोजन प्रदान करने पर विचार कर रहे हैं."

पढ़ें- रेल रिज़र्वेशन में 'विकल्प' सुविधा के बारे में सारी जानकारी

मंत्री ने कहा कि 15 अगस्त को रेलवे की नई समय-सारणी लाई जाएगी, जिसमें यात्रियों को पटरियों पर चले रहे नियोजित रखरखाव कार्य के कारण नियमित ट्रेनों के विलंब होने की सूचना दी जाएगी. उन्होंने कहा, "पिछले सात-आठ दिनों से मैंने सात रेलवे जोन के महाप्रबंधकों के साथ समीक्षा बैठकें की हैं. हमने नियोजित तरीके से रेलवे संपत्तियों के रखरखाव का कार्य चलाने का फैसला किया है."

पढ़ें - रेलवे में सफर के दौरान लेते हैं कैटरिंग सर्विस से खाना, तो इस खबर को जरूर पढ़ें

उन्होंने कहा, "समयपालन में सुधार के लिए प्रयास किए जाएंगे और सुरक्षा को लेकर कोई समझौता नहीं किया जाएगा."गोयल ने कहा कि सप्ताह के दौरान रखरखाव कार्य दो घंटे तक चलेगा, जबकि सप्ताहांत यानी रविवार को छह घंटे कार्य चलेगा.


उन्होंने बताया कि रेलवे बोर्ड ने 2,000 करोड़ रुपये की लागत से इलाहाबाद और मुगलसराय के बीच नई रेल लाइन को मंजूरी दी है. इसपर काम तीन-चार साल में पूरा हो जाएगा. ट्रेन में मिलने वाले भोजन की गुणवत्ता पर गोयल ने कहा कि आईआरसीटीसी के 16 रसोई कक्ष को सीसीटीवी कैमरा से जोड़ा गया है और यात्री देख सकते हैं कि भोजन किस प्रकार तैयार किया जाता है.