Profit
होम | इंडस्ट्रीज

इंडस्ट्रीज

  • चीन की कंपनियों के लिए कार्यालय खोलने को पसंदीदा स्थान है भारत का यह क्षेत्र
    चीन की कंपनियों के लिए कार्यालय खोलने को दिल्ली-एनसीआर वैश्विक स्तर पर सबसे पसंदीदा बाजार है. एक रिपोर्ट में कहा गया है कि 2015 से 2017 के दौरान चीन की कंपनियों ने दिल्ली में 5,16,667 वर्ग फुट जगह पट्टे पर ली. संपत्ति सलाहकार जेएलएल की अध्ययन रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन की कंपनियों के लिए दूसरा पसंदीदा भारतीय शहर मुंबई है. 2015-17 के दौरान चीनी कंपनियों ने मुंबई में अपने कार्यालयों के लिए 85,537 वर्ग फुट जगह पट्टे पर ली. 
  • नए मैसेज बग ने वाट्सएप, एंड्रायड डिवाइसों को किया क्रैश
    एंड्रायड डिवाइसों पर फॉरवर्ड किए जा रहे एक ऐसे बग का पता चला है, जो खोलने पर न सिर्फ वाट्स एप को क्रैश कर सकता है, बल्कि स्मार्टफोन के समूचे ऑपरेटिंग सिस्टम को क्रैश करने में सक्षम है. स्लैशगीयर की रपट में रविवार को कहा गया है, "यह किसी बग वाले मैसेज की तरह ही है, जिसमें स्पेस के बीच में छुपे हुए सिंबल्स होते हैं, जिससे एप ओवरलोड होने लगता है और सिस्टम क्रैश कर जाता है."
  • वोडाफोन के अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता अदालत में जाने के खिलाफ केंद्र की याचिका खारिज
    दिल्ली उच्च न्यायालय ने सोमवार को केंद्र सरकार की उस याचिका को खारिज कर दिया जिसमें उसने दूरसंचार कंपनी वोडाफोन के साथ एक कर विवाद मामले को अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता अधिकरण ले जाने का विरोध किया था.
  • उड़ान के दौरान वाई-फाई मंजूरी का विदेशी विमान कंपनियों को मिलेगा तुरंत लाभ
    उड़ान के दौरान विमानों में वॉयस एवं डेटा सेवाओं को मंजूरी देने से विदेशी विमानन कंपनियों को तत्काल फायदा होगा क्योंकि घरेलू विमानन कंपनियों के पास अभी यह सुविधा उपलब्ध नहीं है. विमानन क्षेत्र की एक परामर्शदाता कंपनी ने यह कहा है. सेंटर फोर एशिया पैसिफिक (सीएपीए) ने कहा कि भारतीय वायुसीमा में विदेशी कंपनियां ये सेवाएं देने में अव्वल रहेंगी क्योंकि घरेलू कंपनियां अभी वाई-फाई से लैस नहीं हैं. 
  • कैट की फ्लिपकार्ट-वालमार्ट के बीच प्रस्तावित सौदे की जांच की मांग
    खुदरा कारोबारियों के संगठन कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने फ्लिपकार्ट-वालमार्ट के प्रस्तावित 12 अरब डॉलर के विलय सौदे की जांच की मांग की है. उसने कहा कि इससे ई-कॉमर्स क्षेत्र में बाजार बिगाड़ने वाले मनमाने तरीके से दाम तय करने की प्रवृति को बढ़ावा मिलेगा. कैट ने कहा, ‘‘यह वाकई में दुर्भाग्यपूर्ण है कि स्पष्ट प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) नीति होने के बाद भी चाहे खुदरा हो या फिर ई-कामर्स क्षेत्र, विदेशी कंपनियां बचने का रास्ता ढूंढ रहीं हैं.’’

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com