व्यापार मुद्दा सुलझे तो अमेरिकी उत्पादों से शुल्क वृद्धि का फैसला वापस हो सकता है: भारत

हमें उम्मीद है कि शुल्कों का मुद्दा उससे पहले सुलझ जाएगा. इन मुद्दों पर दोनों देशों के वरिष्ठ अधिकारियों की तीन दिन की बैठक में विचार विमर्श किया गया. 

व्यापार मुद्दा सुलझे तो अमेरिकी उत्पादों से शुल्क वृद्धि का फैसला वापस हो सकता है: भारत

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

भारत ने संकेत दिया कि वह अमेरिका के 29 उत्पादों पर लगाए गए अतिरिक्त शुल्क के फैसले को वापस ले सकता है, बशर्ते दोनों देशों के बीच शुल्कों का मुद्दा सुलझ जाए. यह शुल्क चार अगस्त से लागू होना है. आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि यदि दोनों पक्ष शुल्कों को लेकर मतभेदों को दूर कर लेते हैं , तो भारत अतिरिक्त शुल्क लगाने की अधिसूचना को वापस ले लेगा. सूत्रों ने कहा कि अधिसूचना के क्रियान्वयन की तारीख चार अगस्त है. हमें उम्मीद है कि शुल्कों का मुद्दा उससे पहले सुलझ जाएगा. इन मुद्दों पर दोनों देशों के वरिष्ठ अधिकारियों की तीन दिन की बैठक में विचार विमर्श किया गया. 

अगले महीने अमेरिका में इस बारे में अधिकारी स्तर की बैठक आयोजित करने का फैसला किया गया है. सूत्रों ने कहा कि अगले महीने के मध्य के बाद एक प्रतिनिधिमंडल किसी भी समय अमेरिका जाएगा ताकि उन उत्पादों की पहचान की जा सके जिनको लेकर दोनों पक्षों के राजनीतिक नेतृत्व द्वारा कुछ घोषणा की जाएगी. 

भारत ने अमेरिका के 29 उत्पादों पर सीमा शुल्क बढ़ाने की घोषणा की है. इनमें दालें, लौह एवं इस्पात उत्पाद आदि शामिल है. अमेरिका के शुल्क बढ़ाने की घोषणा के जवाब में भारत ने यह कदम उठाया है. यह शुल्क वृद्धि चार अगस्त से प्रभाव में आएगी. भारत इस्पात एवं एल्युमीनियम उत्पादों पर अमेरिका द्वारा लगाए गए ऊंचे शुल्कों से छूट के लिए दबाव बना रहा है. 

साथ ही वह कुछ खास घरेलू उत्पादों पर वरीयता की सामान्यीकृत प्रणाली (जीएसपी) के तहत अमेरिकी बाजार में कर मुक्त निर्यात लाभ चाहता है. इसके अलावा भारत अपने कृषि, वाहन, वाहन कलपुर्जा तथा इंजीनियरिंग क्षेत्र के लिए अधिक पहुंच की मांग कर रहा है. 

जीएसपी को 1976 में शुरू किया गया था. इसके तहत भारत के रसायन और इंजीनियरिंग आदि क्षेत्रों करीब 3,500 भारतीय उत्पादों को अमेरिका में शुल्क मुक्त प्रवेश् मिलता है. वहीं दूसरी ओर अमेरिका अपने कृषि और विनिर्माण उत्पादों के लिए भारत में अधिक पहुंच चाहता है. 2017-18 में भारत से अमेरिका को वाणिज्यिक निर्यात 47.9 अरब डालर और अमेरिका से आयात 26.7 डालर के बराबर था.

Newsbeep