आईआईटी-आईआईएम के स्नातकों का भाव दूसरे संस्थानों के स्नातकों से दोगुना

नियोक्ताओं के गुणवत्ता व कौशल को वरीयता देने के कारण यह अंतर है. कौशल क्षेत्र से जुड़ी वैश्विक फर्म मेटल ने अपनी रिपोर्ट में यह बात कही. 

आईआईटी-आईआईएम के स्नातकों का भाव दूसरे संस्थानों के स्नातकों से दोगुना

प्रतीकात्मक फोटो

मुंबई:

शीर्ष भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (आईआईटी) के स्नातक इंजीनियर एक औसत इंजीनियर की तुलना में 137 प्रतिशत अधिक वेतन ले रहा है. वहीं , भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) के प्रबंधन स्नातक एक अन्य एमबीए ग्रेजुएट की तुलना में 121 प्रतिशत अधिक वेतन उठा रहा है. नियोक्ताओं के गुणवत्ता व कौशल को वरीयता देने के कारण यह अंतर है. कौशल क्षेत्र से जुड़ी वैश्विक फर्म मेटल ने अपनी रिपोर्ट में यह बात कही. 

मेटल ने कैंपस भर्ती रिपोर्ट 2018 में कहा कि आईआईटी के कम्प्यूटर साइंस या सूचना प्रौद्योगिकी स्नातक को औसतन 6.9 लाख रुपये का सालाना पैकेज मिल रहा है. 

इसमें कहा गया है कि प्रौद्योगिकी क्षेत्र से आने वाले स्नातकों को एमबीए करने के बाद औसतन 14.8 लाख रुपये सालना का पैकेज मिला. 

यह रिपोर्ट मेटल द्वारा किये गये सर्वेक्षण पर आधारित है. इसमें देश के 194 संस्थानों (114 इंजीनियरिंग और 80 प्रबंधन संस्थान) को शामिल किया गया है. सर्वेक्षण 2017-18 के प्लेसमेंट के लिये जनवरी से जून में किया गया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com